बिटिया महोत्सव में शामिल हुए बिना लौट गईं तसलीमा नसरीन

बांग्लादेश की प्रसिद्ध लेखिका तसलीमा नसरीन कल ग्वालियर पहुंचीं। वो यहां महिला बाल विकास विभाग द्वारा आयोजित बिटिया महोत्सव में शामिल होने आई थीं। उन्हें शनिवार को आयोजित परिचर्चा में शामिल होना था, लेकिन वह नाराज होकर रात को ही अपने निजी वाहन से लौट गईं। इस बारे में बात करने पर महिला एवं बाल विकास विभाग के संयुक्त संचालक सुरेश तोमर का कहना था कि वह यहां खुद को इनसिक्योर महसूस कर रही थीं।
विभाग ने उनके रुकने की व्यवस्था होटल लैंडमार्क में की थी, लेकिन होटल में पहुंचने के कुछ ही मिनट बाद ही वो नाराज होकर चेकआउट कर गईं। तसलीमा शाम 6 बजे के बाद अपने निजी वाहन में शहर पहुंचीं। उनके साथ उनकी पर्सनल सिक्योरिटी भी दिखाई दी। यहां पहुंचने से पहले उन्होंने टि्वटर पर आगरा के होटल और खाने की तारीफ की थी।
जबकि ग्वालियर में वह नाखुश दिखीं। उन्हें अपने रूम में पहुंचे कुछ ही देर हुआ था कि होटल स्टाफ द्वारा उन्हें किसी वायर को ठीक करने के लिए फोन किया गया। उन्हें स्टाफ का यह व्यवहार ठीक नहीं लगा। इसके अलावा उनका और उनके सिक्योरिटी पर्सन का रूम भी काफी दूर था।
विभाग के कर्मचारी करते रहे काफी समय तक इंतजार
निर्धारित कार्यक्रम अनुसार तसलीमा नसरीन को होटल से कार्यक्रम स्थल के लिए रवाना होना था। इसके लिए विभाग के अधिकारी गाड़ी लेकर पहुंचे, लेकिन उन्हें तसलीमा नसरीन के बाहर आने के लिए काफी इंतजार करना पड़ा। उन्होंने कई बार उनके सिक्योरिटी पर्सन्स को कॉल भी किए, लेकिन उन्होंने रिसीव नहीं किया।
लज्जा पर दिया ऑटोग्राफ
होटल में उन्होंने शहर के ऑटोग्राफ कलेक्टर नीलकमल ने उनसे मुलाकात की। इस दौरान वो उनके द्वारा लिखी गई किताब लज्जा ले गए थे, जिस पर उन्होंने ऑटोग्राफ भी दिए। इसके साथ ही पूछा कि किताब कैसी लगी।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »