अफगानिस्‍तान में फिर लौटे तालिबान के काले कानून

काबुल। अफगानिस्‍तान से अमेरिकी सेनाओं की वापसी शुरू होने के बाद तालिबान ने भीषण हमले करने शुरू कर दिए हैं। तालिबान का दावा है क‍ि अफगानिस्‍तान के 80 फीसदी जिलों पर अब उसका कब्‍जा हो गया है। अफगानिस्‍तान में तालिबान की फिर से वापसी के साथ ही उसके काले कानून अब लौट आए हैं। तालिबान ने अपने नियंत्रण वाले देश के पूर्वोत्‍तर प्रांत तखार में आदेश द‍िया है कि महिलाएं अकेले घर से नहीं निकलें और पुरुषों को अनिवार्य रूप से दाढ़ी रखें।
पाकिस्‍तान अखबार द न्‍यूज़ ने मानवाधिकार कार्यकर्ताओं के हवाले से बताया कि तालिबान ने लड़कियों के लिए दहेज देने पर भी नए नियम बनाए हैं। तखार में रहने वाले स‍िव‍िल सोसायटी कार्यकर्ता मेराजुद्दीन शरीफी कहते हैं, ‘तालिबान ने महिलाओं से अपील की है कि वे बिना पुरुषों को साथ लिए घर से बाहर नहीं निकलें।’ उन्‍होंने कहा कि तालिबान बिना सबूत के ही सुनवाई पर जोर देता है।
‘तालिबान के इलाके में खाद्यान्‍न की कीमतें काफी बढ़ीं’
वहीं तखार प्रांतीय परिषद ने कहा कि जिन इलाकों पर तालिबान का कब्‍जा हो गया है, वहां पर खाद्यान्‍न की कीमतें काफी बढ़ गई हैं। उन्‍होंने कहा, ‘तालिबान के नियंत्रण वाले इलाकों में लोगों को काफी मुश्किल हो रही है। वहां कोई सेवा नहीं है। अस्‍पताल और स्‍कूल दोनों ही बंद हैं।’ इस बीच तखार प्रांत के गवर्नर अब्‍दुल्‍ला कारलुक ने कहा है कि सरकारी इमारतों को तालिबान ने नष्‍ट कर दिया है। इन इलाकों में सारी सेवाएं बंद हो गई हैं।
गवर्नर ने कहा, ‘तालिबान ने सबकुछ लूट लिया और अब कोई सेवा मौजूद नहीं है।’ स्‍थानीय लोगों का कहना है कि प्रांत में इस तरह की स्थिति जारी रहना अब अस्‍वीकार्य है। तालिबान के सफाये के लिए प्रांत में सफाई अभियान शुरू किया जाना चाहिए। इस बीच तालिबान ने इस दावे को खारिज कर दिया है और कहा कि यह उसके खिलाफ दुष्‍प्रचार है। इस बीच तालिबान और अफगान सेना के बीच हेरात, कपिसा, तखार, बाल्‍ख, परवान, बघलान प्रांतों में भीषण संघर्ष जारी है।
अमेरिकी सेना ने बगराम हवाई अड्डे को छोड़ना शुरू कर दिया है।
अफगानिस्‍तान के रक्षा मंत्रालय का कहना है कि पिछले 24 घंटे में 10 प्रांतों में तालिबान के 250 लड़ाके मारे गए हैं। उधर, अमेरिकी सेना ने करीब दो दशक तक चली खूनी जंग के बाद अब बगराम हवाई अड्डे को छोड़ना शुरू कर दिया है। अफगानिस्‍तान में जंग के दौरान यह हवाई अड्डा तालिबान और अलकायदा के खिलाफ कार्यवाही के लिए प्रमुख ठ‍िकाना था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *