चीन से खतरे को देखकर ताइवान ने रक्षा बजट में भारी इजाफा किया

ताइपे। चीन के हमले के बढ़ते खतरे के बीच ताइवान ने रक्षा बजट में भारी इजाफा किया है। ताइवान ने अपने रक्षा बजट में 10 फीसदी की वृद्धि करते हुए कुल 1.4 अरब डॉलर का इजाफा किया है। ताइवान सरकार ने इस बढ़ोत्‍तरी का ऐलान ऐसे समय पर किया है जब अमेरिका के स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री ने ताइपे की यात्रा की है। यही नहीं, चीन ने उसकी सीमा के पास जोरदार युद्धाभ्‍यास किया है।
चीन लगातार ताइवान स्‍ट्रेट में अपनी गतिविधियां बढ़ा रहा है। सोमवार को ताइवान ने कहा था कि चीन के फाइटर जेट कुछ समय के लिए बेहद संवेदनशील मेडियन लाइन को पार कर गए थे। इसके बाद ताइवानी सेना और एयरफोर्स को चीनी विमानों को भगाने के लिए मिसाइल दागने पड़े थे। उसी दिन अमेरिकी स्‍वास्‍थ्‍य मंत्री एलेक्‍स एजार ने राष्‍ट्रपति त्‍साई इंग-वेन से ताइपे में मुलाकात की थी।
रक्षा बजट 453 अरब ताइवानी डॉलर हुआ
चीन ने अमेरिकी मंत्री के दौरे की निंदा की थी। इस टकराव के बीच ताइवान ने अपने रक्षा बजट को 411 अरब ताइवानी डॉलर से बढ़ाकर अब 453 अरब ताइवानी डॉलर कर दिया है। रॉयटर्स के मुताबिक कुल 10.2 फीसदी का इजाफा किया गया है। ताइवान के रक्षा मंत्रालय ने कहा है कि रक्षा बजट में इस संतुलित वृद्धि से सैन्‍य तैयारियों और युद्ध तैयारियों को लागू करने में मदद मिलेगी। साथ ही राष्‍ट्रीय सुरक्षा और क्षेत्रीय शांति तथा स्थिरता को सुनिश्चित किया जा सकेगा।’
बता दें कि चीन ने साउथ चाइना सी में ताइवान के इलाके पर कब्जा करने के लिए युद्धाभ्यास के नाम पर हजारों सैनिकों को उतार दिया है। इसके जवाब में ताइवान ने भी लगभग 200 मरीन कमांडोज की एक कंपनी को प्रतास द्वीप पर भेजा है। ताइवान का खुफिया जानकारी मिली है कि चीन की सेना इस द्वीप पर हमले की योजना बना रही है। चीन में इस द्वीप को डोंगसा के नाम से जाना जाता है।
युद्धाभ्यास की आड़ में हमले की चीनी साजिश
जापान के क्योडो न्यूज़ ने बताया कि चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी हैनान द्वीप पर बड़े पैमाने पर प्रशिक्षण अभ्यास करने की योजना बना रहा था, जिसमें ताइवान-नियंत्रित द्वीपों पर कब्जे का प्रयास भी किया जाएगा। यह भी बताया गया कि पीएलए के दक्षिणी कमांड थिएटर के निर्देशन में होने वाले इस युद्धाभ्यास में बड़े पैमाने पर मरीन कमांडो, लैंडिंग शिप्स होवरक्राफ्ट और सैन्य हेलिकॉप्टर शामिल होंगे।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *