स्‍वयं ही साधना होगा अपने गुरूत्‍व को

Guru purnima पर विशेष हम सनातनधर्मी सदैव दो धाराओं में बहते हैं और समयानुसार इनका उपयोग-सदुपयोग-दुरूपयोग भी कर लेते हैं।

Read more
Translate »