उम्र का बढ़ना तो दस्तूर-ए-जहां है मगर, महसूस न करो तो उम्र कहां बढ़ती है

कल्पना कीजिए कि आप को आपके जन्म की तारीख़ नहीं मालूम. न बर्थ सर्टिफ़िकेट है, न कुंडली और न ही

Read more
Translate »