‘आप’ पर व्‍यंग्य करतीं कुमार विश्‍वास की नई कविताएं

ओजस्वी कवि कुमार विश्वास की कुछ नई रचनाएं एक ओर जहां आम आदमी पार्टी द्वारा उनके साथ किए गए व्‍यवहार

Read more

निंदा रस में डूबे लोगों के लिए परसाई जी का लिखा व्‍यंग्‍य- ‘वह जो आदमी है न’

हरिशंकर परसाई के बारे में कहा जाता था कि वो लिखते तो बहुत शानदार व धारदार थे लेकिन कठिन लिखते

Read more
Translate »