सत्ता की संकल्प-शक्ति से ही हिन्दी बनेगी राष्ट्रभाषा

भाषा व्यक्ति-व्यक्ति के मध्य अथवा दो समूहों के मध्य केवल संपर्क का ही माध्यम नहीं होती। वह संपर्क से आगे

Read more

हिन्दी दिवस पर कव‍िता: राष्ट्रभाषा पर बहस चले

वर्तमान परिवेश में हम हिन्दी भाषा में काफी बदलाव को देख रहे हैं, बदलाव समय के हिसाब से जरूरी है

Read more

हिन्दी दिवस और हिन्दी पखवाड़ा: राष्ट्रभाषा हिन्दी तेरी यही कहानी

हम भारत के लोग! देववाणी की भाषा ‘संस्कृत’ भूल चुके हैं राष्ट्रभाषा हिन्दी पर राजनीति जारी है इंसाफ की सबसे

Read more