मंत्र शक्ति को पहचान कर उसके योजक बनें: कपिल शर्मा

अमन्त्रमक्षरं नास्ति नास्ति मूलमनौषधम् । अयोग्यः पुरुषो नास्ति योजकस्तत्र दुर्लभः॥ सभी शब्द में मंत्र शक्ति निहित है अर्थात् शब्दों के

Read more