आंकड़े बोलते हैं… बढ़ रही है कुमाताओं की संख्या

मशहूर शायर बशीर बद्र का एक शेर है- ”काटना, पिसना और निचुड़ जाना अंतिम बूँद तक…. ईख से बेहतर कौन

Read more

दिलों में धड़कने वाले उर्दू शायर बशीर बद्र का जन्‍मदिन आज

15 फ़रवरी 1936 को जन्‍मे उर्दू शायर डॉ. बशीर बद्र ने कामयाबी की बुलन्दियों को फतेह कर लम्बी दूरी तय

Read more