शहीद गुरुतेज सिंह: शस्त्र के बिना शौय-प्रदर्शन कठिन है

15 जून की रात को चीनी और भारतीय सैनिकों के मध्य हुई हिंसक झड़प के संदर्भ में 23 वर्षीय भारतीय

Read more

सीमाओं की सुरक्षा हमारे पुरुषार्थ के परीक्षण की वेला है

चीन के विदेश मंत्रालय ने एक बार फिर दावा किया है कि हमारी उत्तरी सीमा पर स्थित ‘गलवान घाटी’ उसकी

Read more

सिंध के ‘महाराज दाहिर’ ज‍िन्हें इतिहास और समाज ने भुला द‍िया

व‍िगत 16 जून को महाराज दाहिर की पुण्यतिथि‍ थी, इसी अवसर पर ल‍िखा गया एक उत्कृष्ट आलेख अरबों के आक्रमण

Read more

स्वाधीनता दिवस पर आत्मावलोकन आवश्यक

स्वाधीनता दिवस एक बार फिर आत्मावलोकन का अवसर लेकर उपस्थित हुआ है। इसमें संदेह नहीं कि देश ने विगत सात

Read more

जीवन के वाड्मय का सबसे प्यारा शब्द है – माँ

माँ शब्दकोश का ही नहीं अपितु जीवन के वाड्मय का भी सबसे प्यारा शब्द है। शिशु के मुख से सबसे

Read more

लोकतंत्र का भविष्य समन्वय में है संघर्ष में नहीं

लोकतंत्र में प्रयुक्त ‘लोक‘ शब्द अपने अपार विस्तार में समस्त संकीर्णताओं से मुक्त है । ‘लोक’ जाति-धर्म-भाषा-क्षेत्र-वर्ग आदि समूह की

Read more

Fathers-day: संतान के लिए सुरक्षा-कवच है पिता

Fathers-day पर विशेष ‘पिता’ शब्द् संतान के लिए सुरक्षा-कवच है। पिता एक छत है, जिसके आश्रय में संतान विपत्ति के

Read more