पेट्रोलियम संरक्षण अनुसंधान संघ के साथ TAFE ने किए एमओयू पर हस्ताक्षर

नई दिल्ली। भारत सरकार के पेट्रोलियम संरक्षण अनुसंधान संघ ( पी.सी.आर.ए.) और TAFE ने पूरे देश में संसाधनों के संरक्षण में सहायता के लिए एमओयू पर हस्ताक्षर किए।

TAFE – ट्रैक्टर्स एंड फार्म इक्विपमेंट लिमिटेड, संख्या के आधार पर विश्‍व की तीसरी सबसे बड़ी ट्रैक्टर निर्माता कंपनी है जिसने ने पूरे देश में संसाधनों के संरक्षण में सहायता के लिए सहमति पत्र (एम.ओ.यू.) पर हस्ताक्षर किए।

भारत सरकार की पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस मंत्रालय की संस्था, पी.सी.आर.ए. और ट्रैक्टर प्रमुख कंपनी टैफे के बीच पहली बार किये गये इस सहयोग के लिए, श्री आलोक त्रिपाठी (आई.ए.एस.), कार्यकारी निदेशक – पी.सी.आर.ए., और श्री टी.आर. केशवन, प्रेसिडेंट और सीओओ – प्रॉडक्‍ट स्‍ट्रेटजी और कॉर्पोरेट रिलेशंस, टैफे, द्वारा नई दिल्ली में सहमति प्रदान की गई।

पी.सी.आर.ए. तेल पर देश की अत्यधिक निर्भरता को कम करने के उद्देश्य से पेट्रोलियम संरक्षण के लिए नीतियों और रणनीतियों को भारत सरकार को प्रस्तावित करने में सक्रिय भूमिका निभाता है। सहमति पत्र के अंतर्गत, ट्रैक्टरों और उपकरणों के बेहतर रख-रखाव और मरम्‍मत के फायदों के बारे में जागरूकता फैलाने / किसानों को जागरूक करने में टैफे के व्यापक डीलरशिप नेटवर्क को शामिल करके कृषि कार्यशालाओं और मेलों का संयुक्त रूप से संचालन करने की योजना है, जिससे कम ईंधन की खपत और संसाधनों के कुशल उपयोग के परिणामस्वरूप, किसानों को उनकी उत्पादकता और लाभ को अधिकतम करने में मदद मिले।

फील्ड ट्रायल का उपयोग किसानों को प्रभावित करने वाले सही उपयोग और सिद्ध तरीकों को प्रदर्शित करने के लिए किया जाएगा, जिससे प्रति यूनिट पॉवर खपत की उत्पादकता में वृद्धि हो। सटीक कृषि और जल संरक्षण महत्वपूर्ण संसाधनों के उपयोग को कम करेगा। ऊर्जा संरक्षण और निर्भरता को कम करने में योगदान करते हुए, टैफे और पी.सी.आर.ए. का यह संयुक्त सामाजिक (सी.एस.आर.) प्रयास किसानों को संरक्षण, रीसाइक्लिंग और वैकल्पिक ऊर्जा के उपयोग के माध्यम से लागत को कम करने में मदद करेगा।
इस प्रयास में आगे टैफे के ‘ जेफार्म सर्विसेज़ ’ ऍप के माध्यम से पी.सी.आर.ए. द्वारा किसानों के लिए तैयार किए गए आउटरीच कार्यक्रम और नॉलेज शेयरिंग मॉड्यूल भी प्रसारित किए जाएंगे।

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *