यासीन मलिक के खिलाफ टाडा कोर्ट से मुकद्दमा चलाने को मंजूरी म‍िली

जम्मू। आतंकी यासीन मलिक पर वायुसेना अधिकारी की हत्या मामले में शिकंजा और कस गया है, आज आतंकवादी यासीन मलिक (Yasin Malik) के खिलाफ टाडा कोर्ट ने मुकदमा चलाने की अनुमति दे दी है।

जम्मू के टाडा कोर्ट ने कहा है कि पहली नजर में यासीन मलिक के खिलाफ मुकदमा चलाने के लिए पर्याप्त सबूत मिले हैं, अदालत ने सोमवार को आरोप तय करने की मंजूरी दी है, यासीन मलिक फिलहाल आतंकी फंडिंग के आरोप में जेल में बंद है।

जम्मू के टाडा कोर्ट को एयरफोर्स अधिकारियों की हत्या के मामले में अलगाववादी नेता यासीन मलिक और अन्य छह लोगों के खिलाफ पर्याप्त सबूत मिले हैं। यह मामला 30 साल पुराना है।

गौरतलब है क‍ि 1990 में श्रीनगर में एयरफोर्स के अधिकारी रवि खन्ना समेत पांच जवानों की आतंकियों ने हत्या की थी। यासीन इस मामले में 19 साल तक जमानत पर रहा था। पिछले साल उसे गिरफ्तार किया गया था। इसके बाद से ही वह जेल में हैं।

यासीन के खिलाफ टेरर फंडिंग और मुफ्ती मोहम्मद सईद की बेटी के अपहरण का मामला भी दर्ज है।

इधर प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन जेकेएलएफ के पूर्व नेता फारुक अहमद डार उर्फ ‘‘बिट्टा कराटे’’ के खिलाफ विभिन्न आतंकी मामलों की सीबीआई जांच के अनुरोध को लेकर एक कश्मीरी पंडित शनिवार को जम्मू कश्मीर उच्च न्यायालय पहुंचा। उक्त कश्मीरी पंडित के पिता की आतंकवादियों ने 1997 में हत्या कर दी थी। कराटे को राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) ने एक आतंकवादी वित्तपोषण मामले में पिछले वर्ष गिरफ्तार किया था।

– एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *