स्‍वामी रामदेव का सुझाव, 2 से ज्यादा बच्चे पैदा करने वालों के वोटिंग राइट्स वापस लें

हरिद्वार। जो लोग 2 से ज्यादा बच्चे पैदा करें, उनसे उनके वोटिंग राइट्स वापस ले लेने चाहिए। देश को यह सुझाव आज स्‍वामी रामदेव ने दिया है।
योग और पतंजलि उत्पादों के अलावा अकसर अपने बयानों से चर्चा में रहने वाले योगगुरु स्वामी रामदेव का यह बयान भी विवाद का कारण बन सकता है।
इसके अलावा रामदेव ने अपना उदाहरण देते हुए कहा कि मेरी तरह जो व्यक्ति शादी ना करे, उसे समाज में विशेष सम्मान भी मिलना चाहिए।
हरिद्वार में एक कार्यक्रम को संबोधित करते हुए रामदेव ने कहा, ‘इस देश में जो हमारी तरह विवाह ना करे, उनका विशेष सम्मान होना चाहिए। विवाह करे भी तो 2 से ज्यादा संतान पैदान करने पर उसका वोटिंग अधिकार ले लेना चाहिए।’
उन्होंने हल्के-फुल्के अंदाज में कहा, ‘पुरातन काल में जनसंख्या कम थी तो वेदों में तो 10-10 संतानें पैदा करने तक कहा गया है। अब जिसके सामर्थ्य हो, कर लेना। 1-2 उनमें से हमें दे देना। अब तो वैसे ही 125 करोड़ से ज्यादा देश की आबादी है।’
उन्होंने आगे कहा, ‘लेकिन अगर कोई प्रज्ञावान पुरुष है या स्त्री है, अगर वह विवेकशील और पूर्ण जागृत आत्मा हो तो वह एक ही हजारों, लाखों, करोड़ों पर भारी पड़ता है, यह भारती ज्ञान परंपरा है।’
बता दें कि इससे पहले राम मंदिर के मसले पर रामदेव ने कहा था कि अगर न्यायालय फैसले में देरी करेगा तो सरकार कानून लाकर मंदिर निर्माण करेगी। उन्होंने कहा था, ‘यदि न्यायालय के निर्णय में देर हुई तो संसद में जरूर इसका बिल आएगा, आना ही चाहिए। रामजन्मभूमि पर राम मंदिर नहीं बनेगा तो किसका बनेगा? संतों/राम भक्तों ने संकल्प किया है कि अब राम मंदिर में और देर नहीं। मुझे लगता है कि इस वर्ष शुभ समाचार देश को मिलेगा।’
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »