राहुल के गले लगने पर स्‍वामी ने दी पीएम को मेडिकल चेकअप कराने की सलाह

नई दिल्ली। भाजपा सांसद सुब्रमण्यन स्वामी ने पीएम से राहुल गांधी के गले लगने पर कहा है कि रूसी और नॉर्थ कोरियाई इस गले लगने की तकनीक का इस्तेमाल जहर देने के लिए करते हैं। उन्होंने पीएम मोदी को मेडिकल चेकअप कराने की सलाह दे दी है।
अविश्वास प्रस्ताव पर बहस के दौरान राहुल गांधी ने पीएम मोदी को सदन में गले लगाया तो चर्चाओं के दौर शुरू हो गए। एक धड़ा जहां इस जैस्चर के लिए राहुल की तारीफ कर रहा है तो दूसरा धड़ा उन पर संसदीय नियमों के उल्लंघन का आरोप लगा रहा है पर बीजेपी के सांसद सुब्रमण्यन स्वामी इसमें तीसरा ऐंगल ढूंढ लाए हैं।
शनिवार को सुब्रमण्यन स्वामी और गांधी परिवार के बीच की अदावत एक नई ऊंचाई पर पहुंचती दिखाई दी। दरअसल राहुल के पीएम मोदी से गले मिलने की घटना पर सुब्रमण्यन स्वामी ने एक ट्वीट किया। इस ट्वीट में बीजेपी सांसद ने राहुल गांधी का नाम नहीं लेते हुए उनके लिए ‘बुद्धू’ शब्द का इस्तेमाल किया। स्वामी ने लिखा, ‘नमो (मोदी) को बुद्धू को गले लगने देने की अनुमति नहीं देनी चाहिए थी। रूसी और नॉर्थ कोरियाई गले लगने की तकनीक का इस्तेमाल जहरीली सुई चुभोने के लिए करते हैं।’
स्वामी ने आगे लिखा कि मुझे लगता है कि नमो को तुरंत मेडिकल चेक के लिए जाना चाहिए और देखना चाहिए कि कहीं सुनंदा पुष्कर के हाथों की तरह उनके शरीर में भी कोई माइक्रोस्कोपिक पंचर तो नहीं। आपको बता दें कि स्वामी सुनंदा पुष्कर मौत के मामले में भी सीधे तौर पर कांग्रेस सांसद शशि थरूर पर आरोप लगाते रहे हैं। बीजेपी सांसद ने सुप्रीम कोर्ट में इस केस की एसआईटी जांच की याचिका लगाई थी।
पिछले दिनों सुप्रीम कोर्ट ने यह कहकर स्वामी की याचिका पर सुनवाई बंद कर दी थी कि पुलिस चार्जशीट दाखिल कर चुकी है और कोर्ट संज्ञान ले चुका है। SC ने कहा था कि अब इस याचिका पर सुनवाई की जरूरत नहीं। आपको बता दें कि शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव पर बोलते समय कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने सदन में पीएम मोदी को गले लगा लिया था। राहुल गांधी ने इसके बाद कहा था कि असल हिंदू का यही मतलब होता है कि आप उसे भले गाली दें, वह आपसे प्यार करेगा।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »