सरकारी आवास छोड़कर Sushma, जेटली निजी बंगले में हुए शिफ्ट

नई दिल्‍ली। भारतीय राजनीति में यह कम देखने को मिलता है कि कोई नेता जब केंद्र या राज्य के सरकार में मंत्री पद पर न हो और सरकारी आवास छोड़ने के लिए खुद खाली करके चलते बने। पू्र्व विदेश मंत्री Sushma swaraj व बीजेपी  की कद्दावर नेत्री सुषमा स्वराज तथा पूर्व वित्त मंत्री अरुण जेटली(arun jaitely) अपनी सरकारी आवास छोड़कर यह नजीर पेश किया है। यहां तक कि पूर्व सांसद और पूर्व विधायक तो अपने आवास तब तक नहीं छोड़ते जब तक अदालत ने एक-दो बार न फटकार दिया हो।

पूर्व विदेश मंत्री रह चुकी है सुषमा

भाजपा नेत्री सुषमा स्वराज ने अपने सरकारी आवास 8, सफदरजंग लेन को छोड़ने का फैसला किया है। जबकि मोदी के पहले कार्यकाल में विदेश मंत्री के तौर पर नाम कमा चुकी सुषमा की अभी केंद्र में अपनी सरकार है। उन्होंने आज अपने आधिकारिक ट्विटर हैंडिल से यह जानकारी दी है।

खराब स्वास्थ्य के कारण नहीं लड़ी लोकसभा चुनाव

मालूम हो कि 2019 के लोकसभा चुनाव नहीं लड़ने का फैसला लेकर उन्होंने पिछले साल सबको चौका दिया था। हालांकि उन्होंने अपने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देकर यह फैसला लिया था। लेकिन सबसे चोकाने वाली बात रही कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में जब मोदी मंत्रिमंडल शपथ ग्रहण ले रही थी तो सुषमा गैस्ट की कतार में बैठी नजर आई। जिससे यह स्पष्ट हो गया कि वे मोदी मंत्रिमंडल में शामिल नहीं हो रही है। उनके जगह एस.जयशंकर को नया विदेश मंत्री बनाया गया है। उनके ट्वीट ने भी सबका ध्यान खींचा जब उन्होंने पीएम मोदी को पहले कार्यकाल में रखने के लिए धन्ववाद दिया।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »