सुशांत सिंह: …इस पहलू से भी मौत की जांच करेगी मुंबई पुलिस

मुंबई। “अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट कहती है कि उन्होंने फाँसी लगाकर आत्महत्या की थी. वहीं कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि वो पेशेवर प्रतिद्वंद्विता के कारण क्लीनिकल डिप्रेशन का शिकार हुए थे. मुंबई पुलिस उनकी मौत के इस पहलू की भी जांच करेगी.”
महाराष्ट्र के गृहमंत्री अनिल देशमुख ने सोमवार रात एक वीडियो ट्वीट कर यह जानकारी दी है. उन्होंने वीडियो में कहा, “ऐसी मीडिया रिपोर्ट्स हैं कि सुशांत ने फ़िल्म इंडस्ट्री में बिज़नेस राइवलरी के कारण आत्महत्या की. पुलिस इस एंगल की भी जांच करेगी.”
कंगना रनौत समेत कुछ बॉलीवुड के कुछ कलाकारों का आरोप है सुशांत बॉलीवुड में व्याप्त ‘नेपोटिज़्म’ (भाई-भतीजावाद) के शिकार हुई थे और किसी ने उनकी परवाह नहीं की.
हेयर स्टाइलिस्ट सपना भवनानी ने भी कहा है कि सुशांत कुछ समस्याओं से जूझ रहे थे.
सपना ने लिखा है, ”यह कोई छुपी हुई बात नहीं है कि सुशांत पिछले कुछ सालों से मुश्किल दौर से गुज़र रहे थे. किसी ने सुशांत का साथ नहीं दिया. मदद के लिए कोई सामने नहीं आया. आज हर कोई ट्वीट कर दुख जता रहा है जिससे पता चलता है कि इंडस्ट्री कितनी खोखली है. यहाँ कोई भी आपका दोस्त नहीं है.”
‘काइ पो चे’, ‘धोनी: द अनटोल्ड स्टोरी’, ‘पीके’, ‘ब्योमकेश बख़्शी’ और ‘छिछोरे’ जैसी लोकप्रिय फ़िल्मों में काम करने वाले सुशांत सिंह राजपूत ने रविवार को अपने बांद्रा स्थित आवास पर मृत पाए गए थे. मुंबई पुलिस ने बाद में इस बात की पुष्टि की थी कि 34 वर्षीय अभिनेता ने घर में फांसी लगाकर आत्महत्या की है.
पुलिस का कहना है कि सुशांत क्लीनिकल ड्रिपेशन से जूझ रहे थे और इससे उबरने के लिए वो डॉक्टर की मदद भी ले रहे थे.
बिहार के पटना से ताल्लुक रखने वाले सुशांत टीवी सीरियल ‘पवित्र रिश्ता’ से मशहूर हुए थे और इसके बाद उन्होंने बॉलीवुड में अपनी जगह बनाई थी. सुशांत की आत्महत्या से भारत में मानसिक स्वास्थ्य की समस्याओं से जुड़ी बहस भी तेज़ हो गई है.
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *