2 फरवरी से शुरू हो रहा है अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट्स मेला

दुनियाभर की सांस्कृतिक विरासत को संजोने वाला अंतर्राष्ट्रीय सूरजकुंड क्राफ्ट्स मेला कल यानी 2 फरवरी शुरू हो रहा है। शिल्प और कला के इस अनूठे संगम में बड़ी संख्या में शिल्पकार शामिल होते हैं और अपनी कारीगरी का नमूना दिखाते हैं।
इनकी बनाई पारंपरिक डिजाइनर साड़ियां हों या घर सजाने के लिए खूबसूरत शो पीस, महिलाओं में उनको लेकर जबरदस्त क्रेज दिखता है।
ऐसे में कई बार खरीददारी को लेकर उलझनों का भी सामना करना पड़ता है।
इनसे बचने के लिए हम आपको बता रहे हैं, मेले में शॉपिंग करने के टिप्स…
जूलरी के लिए बेस्ट ऑप्शन
अगर आपको जूलरी पहनने का शौक है तो सूरजकुंड मेला आपके लिए बेस्ट शॉपिंग स्पॉट है। यहां आपको हाथ से बनाई गई आर्टिफिशल जूलरी के साथ ही ट्राइबल जूलरी भी मिल जाएगी। सब-कुछ आपको 250 से 1 हजार रुपये तक के बीच मिल जाएगा।
दोस्तों से राय लेकर ही जाएं
शॉपिंग के लिए मेले में जाने से पहले अपने उन दोस्तों से बात कर लें, जो पहले मेला घूमकर आए हों। इसके साथ ही अखबारों में आने वाली खबरों, सूरजकुंड मेले की वेबसाइट से मिली जानकारी के हिसाब से मेले में शॉपिंग का प्लान बना सकती हैं।
मिल सकते हैं कई यूनिक आइटम
सूरजकुंड मेले में एक से एक अनूठी चीजें मिल जाती हैं। दुनिया भर से क्राफ्ट्समैन वहां आते हैं। ऐसे में इस मेले का फायदा उठाएं और ऐसी चीजें खरीदें, जो आपके आसपास की मार्केट में आसानी से न मिलती हों या जिन्हें खरीदने के लिए आपको दूसरे राज्यों जाना पड़ता है। ऐसा करने से आपको यूनीक आइटम मिल जाएंगे और आपके पैसों का इस्तेमाल भी सही जगह हो सकेगा। मेले में जाने से पहले अपना बजट जरूर तय कर लें।
लिस्ट बनाकर करें शॉपिंग
साल में एक बार लगने वाले सूरजकुंड मेले में हर बार नए-नए आइटम्स आते हैं। हैंडलूम हो या हैंडीक्राफ्ट, दोनों तरह के सामान आपको यहां मिल जाएंगे इसलिए अगर आप मेले में खरीददारी का मूड बना रही हैं तो अपनी जरूरत के हिसाब से पहले ही एक लिस्ट बना लें। यह भी तय कर लें कि किस तरह की चीजें आपको खरीदनी हैं। याद रखें कि मेले में ऐसा सामान भी मिलता है, जो आपकी पड़ोस की दुकान में भी मिल जाएगा और कुछ चीजें पूरे शहर की खाक छानने पर भी नहीं मिलेंगी।
-एजेंसी