प्रधानमंत्री और राष्‍ट्रपति के लिए सुपरजेट ‘एयर इंडिया वन’ बनकर तैयार

प्रधानमंत्री और राष्‍ट्रपति के लिए सुपरजेट 'एयर इंडिया वन' बनकर तैयार
प्रधानमंत्री और राष्‍ट्रपति के लिए सुपरजेट ‘एयर इंडिया वन’ बनकर तैयार

नई दिल्‍ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सुरक्षा जमीन के साथ अब हवा में भी अभेद्य होने जा रही है। राष्‍ट्रपति रामनाथ कोविंद और पीएम नरेंद्र मोदी के लिए सुपरजेट ‘एयर इंडिया वन’ अमेरिका में बनकर तैयार हो गया है।
माना जा रहा है कि इसी महीने एयर इंडिया वन विमान को भारत को सौंप दिया जाएगा। प्रधानमंत्री मोदी के इस ‘सुपर जेट’ में अमेरिकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की तरह से सुरक्षा उपाय किए गए हैं। यह एक तरह से हवा में ‘उड़ते किले’ की तरह से है।
प्रधानमंत्री और राष्‍ट्रप‍ति को ले जाने के लिए एयर इंडिया के दो बिल्‍कुल नए बोइंग 777-300 विमान को पिछले दिनों खरीदा गया था। इस विमान में सुरक्षा के लिहाज से अब काफी बदलाव किए गए। भारत ने देसी ‘एयरफोर्स वन’ के लिए अमेरिका के साथ 1,300 करोड़ रुपये की डील की थी। इसके तहत दो सेल्‍फ प्रोटेक्‍शन सूट खरीदे गए हैं। इन सूट को एयर इंडिया वन विमानों में लगाया जा रहा है। बताया जा रहा है कि दो में से एक विमान बनकर तैयार हो गया है और उसकी टेस्टिंग की जा रही है।
ट्रंप के एयरफोर्स वन की तरह से है मोदी के प्‍लेन की सुरक्षा
इसी विमान की तस्‍वीर अब सोशल मीडिया पर जमकर शेयर की जा रही है। पीएम नरेंद्र मोदी का यह अत्‍याधुनिक बोइंग-777 विमान पूरी तरह से एकीकृत मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम से लैस है। इसमें ऐसे खास सेंसर लगे हैं जो मिसाइल हमले की तत्‍काल सूचना दे देंगे। इसके बाद डिफेंसिंव इलेक्‍ट्रानिक वॉरफेयर सिस्‍टम एक्टिव हो जाएगा। इस डिफेंस सिस्‍टम में इंफ्रा रेड सिस्‍टम, डिजिटल रेडियो फ्र‍िक्‍वेंसी जैमर आदि लगे हुए हैं। यह सुविधाएं कुछ उसी तरह से होंगी जैसे अमेरिकी राष्‍ट्रपति के प्‍लेन में लगी हुई हैं। हालांकि ट्रंप का विमान कई मामलों में एयर इंडिया वन से और ज्‍यादा उन्‍नत है।
26 साल पुराने विमान की जगह लेंगे नए सुपरजेट
26 साल से प्रधानमंत्री के विशेष विमान के तौर पर काम कर रहे एयर इंडिया वन की जगह लेने बोइंग-777 इसी महीने में आ भारत आ जाएगा। बोइंग ने दो 777-300 ER विमान पिछले वर्ष जनवरी महीने में भी डिलीवर कर दी थी। दोनों विमानों में अत्याधुनिक सुरक्षा कवर देने के लिए वापस अमेरिका भेज दिया गया था। अब इन विमानों में अमेरिका के डलास स्टेट स्थित फोर्ट वर्थ में अडवांस्ड सिक्योरिटी फीचर्स जोड़े जा रहे हैं। बताया जा रहा है कि मिसाइल डिफेंस सिस्‍टम को जोड़ने का सौदा ट्रंप की यात्रा के दौरान हुआ था। इन विमानों के आने के बाद पीएम मोदी और ज्‍यादा सुरक्षित और आरामदायक तरीके से यात्रा कर सकेंगे।
900 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भरता है प्‍लेन
अमेरिकी राष्‍ट्रपति का विमान एयरफोर्स वन 35,000 फीट की ऊंचाई पर 1,013 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकता है। एयरफोर्स वन 35,000 फीट की ऊंचाई पर 1,013 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भर सकता है। एकबार में यह विमान 6,800 मील की दूरी तय कर सकता है। विमान अधिकतम 45,100 फीट की ऊंचाई तक उड़ान भर सकता है। इस विमान के उड़ान के दौरान प्रतिघंटा 1,81,000 डॉलर (करीब 1 करोड़ 30 लाख रुपये) की लागत आती है। वहीं पीएम मोदी का नया विमान करीब 900 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से उड़ान भरता है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *