सनी देओल ने नामांकन दाखिल किया, धर्मेन्‍द्र ने की भावुक अपील

गुरदासपुर। बॉलिवुड के ‘हीमैन’ धर्मेंद्र के बेटे और चर्चित अभिनेता सनी देओल आज पंजाब की गुरदासपुर लोकसभा सीट से अपना नामांकन कर द‍िया। अपने बेटे सनी देओल के नामांकन से ठीक पहले धर्मेंद ने मतदाताओं से भावुक अपील की।
उन्‍होंने कहा कि हम भारत को अपनी मां मानते हैं और इस मां के लिए आपका सहयोग मांगते हैं। धर्मेंद ने राजनीति के गिरते स्‍तर पर भी दुख जताया।
धर्मेंद्र ने ट्वीट कर कहा, ‘राजनीति इतनी घिनौनी हो चुकी है दोस्तो… यहां A…Z बन जाता है….Z….A हो जाता है….हम इसकी A B C नहीं जानते…..हां… भारत हमारी मां है….मां के लिए हम आपका सहयोग मांगते हैं……हमारा साथ दो…..जीत यह आप की होगी….मेरे पंजाब के भाई-बहनों की होगी…भारत मां के एक खूबसूरत अंग गुरदासपुर की होगी।’
एक अन्‍य ट्वीट में धर्मेंद्र ने लिखा, ‘राजनीति मुकद्दर में थी, हम चले आए। अब बहुत सारे मेरे भाई-बहन भली बुरी बातें कहेंगे। उन सबकी बातें सिर माथे पर। एक बात मैं दावे के साथ कह देना चाहता हूं कि जो काम बीकानेर में 50 साल में नहीं हो सके थे, वे मैंने पांच साल में करवा लिए थे।’ बता दें कि गुरदासपुर में बॉलिवुड ऐक्टर विनोद खन्ना की मौत के बाद बीजेपी ने सनी देओल को मैदान में उतारकर मौजूदा चुनाव को काफी रोचक बना दिया है।
कांग्रेस ने यहां से जाट नेता सुनील जाखड़ को टिकट दी है, जो पिछले उपचुनाव में यहां से जीते थे। माना जा रहा है पुलवामा के बाद बालाकोट में एयर स्ट्राइक के बाद बीजेपी ने राष्ट्रवाद और देशभक्ति के माहौल को देखते हुए उसी भाव को आगे बढ़ाने के लिए सनी देओल जैसे ऐक्टर को गुरदासपुर से उतारा है। बता दें कि बॉर्डर और गदर जैसी फिल्मों के जरिए उनकी इमेज राष्ट्रवाद के भाव को आगे बढ़ाती दिखती है।
सनी के बाहरी होने का मुद्दा उठाएगी कांग्रेस
सनी की इमेज कांग्रेस के लिए चुनौती बन रही है। कांग्रेस ने उसकी काट की तैयारी शुरू कर दी है। सूत्रों के मुताबिक एक ओर कांग्रेस जहां सनी देओल के बाहरी होने का मुद्दा उठाने की तैयारी में है, वहीं दूसरी ओर उसने देओल के बॉलिवुड इमेज की काट करना भी शुरू कर दिया है। सीएम कैप्टन अमरिंदर सिंह ने हाल ही में सनी देओल के फिल्मी फौजी इमेज पर चोट करते हुए कहा था कि सनी देओल फिल्मी फौजी हैं, जबकि मैं तो असली फौजी हूं। यह चुनावी रण हैं, जहां फिल्मी इमेज काम नहीं करती।
टिकट न मिलने से खफा कविता खन्ना
दिवंगत ऐक्टर विनोद खन्ना की पत्नी कविता खन्ना ने पिछले दिनों बीजेपी द्वारा अपनी अनदेखी किए जाने को लेकर अपनी पीड़ा सामने रखी थी। मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा था कि जिस तरह से बीजेपी ने गुरदासपुर में ऐन मौके पर टिकट देने के मामले में उनकी अनदेखी की, उससे लगता है कि बीजेपी ने उन्हें छोड़ दिया। कविता गुरदासपुर से अपने पति की जगह टिकट चाह रही थीं। कविता को इस बात का भी मलाल था कि पार्टी ने गुरदासपुर के टिकट ऐलान करने में उन्हें भरोसे में नहीं लिया। उन्हें बीजेपी का यह रवैया विश्वासघात जैसा नजर आया। हालांकि उन्होंने इस संभावना से साफ इनकार किया कि वह गुरदासपुर से निर्दलीय चुनाव लड़ेंगी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *