सुंजवान आर्मी कैंप हमला: होश में आते ही घायल मेजर ने पूछा, आतंकियों का क्या हुआ

जम्मू । जम्मू के सुंजवान आर्मी कैंप पर हमले के दौरान आतंकियों से लड़े देश के बहादुर जवानों के एक से एक रोमांचक किस्से सामने आ रहे हैं। एक ऐसे ही बहादुर हैं मेजर अभिजीत। सुंजवान मिलिटरी कैंप पर हमले के दौरान मेजर अभिजीत इतनी बुरी तरह घायल हुए कि उन्हें 3-4 दिन तक बाहरी दुनिया की कोई खबर ही नहीं रही। सर्जरी के बाद होश में आते ही भारत के इस बहादुर लाल ने पहला सवाल यही पूछा कि आतंकियों का क्या हुआ।
मेजर अभिजीत का इलाज ऊधमपुर के आर्मी अस्पताल में चल रहा है। ऊधमपुर कमांड अस्पताल के कमांडेंट मेजर जनरल नदीप नैथानी ने कहा कि अभिनीत का आत्मबल काफी ऊंचा है। उन्होंने बताया कि सर्जरी के तुरंत बाद मेजर ने सबसे पहला सवाल यही किया कि आतंकियों का क्या हुआ। उनके मुताबिक मेजर के स्वास्थ्य में तेजी से सुधार हो रहा है।
न्यूज़ एजेंसी एएनआई से बात करते हुए मेजर अभिजीत ने बताया कि फिलहाल वह काफी अच्छा महसूस कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि अब वह डॉक्टरों से बात कर पा रहे हैं और दिन में दो बार खुद से चल भी पा रहे हैं। उन्होंने बताया कि घायल होने के बाद उन्हें बाहरी दुनिया की बिल्कुल भी खबर नहीं रही।
आपको बता दें कि गुरुवार को सुंजवान आर्मी कैंप से एक और जवान का शव मिला है। इस तरह सुंजवान हमले में अब तक 6 जवान शहीद हो गए हैं।
-एजेंसी