लखनऊ के कमिश्‍नर पद से हटाए गए सुजीत पांडेय, ध्रुवकांत ठाकुर ने चार्ज लिया

लखनऊ। उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ में रातों-रात कमिश्नर बदल दिए गए। सुजीत पांडेय को हटाकर आईपीएस ध्रुवकांत ठाकुर को लखनऊ का नया कमिश्नर बनाया गया है। ठाकुर अभी तक एटीएस के एडीजी थे। माना जा रहा है कि दिवाली से पहले जहरीली शराब पीने से 6 लोगों की मौत के मामले के बाद उत्तर प्रदेश शासन ने सुजीत पांडेय को हटाने का फैसला लिया है। मंगलवार आधी रात सुजीत पांडेय के ट्रांसफर के बाद डीके ठाकुर ने चार्ज भी ले लिया। उन्होंने बुधवार सुबह 9 बजे कार्यालय भी जॉइन कर लिया है।
कौन हैं लखनऊ के नए कमिश्नर
एटीएस के एडीजी डीके ठाकुर साल 1994 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। इसे पहले वह राजधानी लखनऊ के एसएसपी रह चुके हैं। बीएसपी चीफ मायावती के शासनकाल में ठाकुर लखनऊ के एसएसपी और डीआईजी के पद पर तैनात थे। उन्होंने केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) में भी काम किया है। बताया जाता है कि पुलिस अधिकारियों में ठाकुर की अलग पहचान है। जब वह लखनऊ में तैनात थे तब लोगों की शिकायतों को सुनने के लिए 10 बजे से शाम पांच बजे तक उपलब्ध रहते थे।
राजधानी में अपने सवा साल से ज्यादा के कार्यकाल में उन्होंने क्राइम तथा लॉ एंड ऑर्डर पर शानदार काम किया था। वह नियमित रूप से दफ्तर में बैठकर सालों से लंबित मामलों को निपटाते थे। उन्होंने राजधानी में 6 नए थानों का प्रस्ताव भी तैयार किया था। शासन से आदेश मिलने के बाद पीजीआई, गौतमपल्ली, जानकीपुरम, पारा चौकी, विभूति खंड और इंदिरानगर की स्थापना कराई थी। साथ ही उन्होंने ऐंटी ह्यूमन ट्रैफिकिंग यूनिट में भी थाने की तर्ज पर काम शुरू कराया।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *