KD Hospital के चिकित्सकों द्वारा दिमाग के ट्यूमर की सफल सर्जरी

मथुरा। के.डी. मेडिकल कॉलेज-हॉस्पिटल एण्ड रिसर्च सेण्टर के विशेषज्ञ न्यूरो सर्जनों ने लगभग सात घण्टे के अथक प्रयासों के बाद गांव दौताना, जनपद मथुरा निवासी एंदल (50 वर्ष) के दिमाग के ट्यूमर की सफल सर्जरी कर उसे नई जिन्दगी प्रदान की है। अब एंदल पूरी तरह स्वस्थ है।

गौरतलब है कि गांव दौताना, जनपद मथुरा निवासी एंदल सिंह पुत्र सीताराम पिछले डेढ़ साल से दिमाग में ट्यूमर होने की वजह से जिन्दगी की जंग लड़ रहा था। समस्या निदान के लिए उसने कई शहरों के चिकित्सकों को दिखाया लेकिन आर्थिक तंगी और कोरोना संक्रमण के चलते वह इलाज नहीं करा सका। एक दिन तबियत अधिक खराब होने के बाद उसे उसके बेटे मथुरा के कई अस्पतालों में ले गए जहां उन्हें दिल्ली या जयपुर ले जाने की सलाह दी गई। उस समय एंदल की हालत काफी खराब थी, उसके दांए हाथ-पैर ने काम करना बंद कर दिया था, ऐसी अवस्था में उसे के.डी. हॉस्पिटल लाया गया।

न्यूरो सर्जन डॉ. कौशल दीप सिंह और डॉ. मोहसिन फयाज ने मरीज तथा उसकी एमआरआई व अन्य जांचों की रिपोर्ट देखने के बाद मरीज के बेटों को बताया कि उसके पिता के दिमाग का ट्यूमर बहुत बड़ा हो गया है। दिमाग में ट्यूमर की वजह से ही सूजन आ गई है। उस समय एंदल न केवल कोमा जैसी स्थिति में था बल्कि सीने में उल्टी के जाने से फेफड़े भी कम काम कर रहे थे। न्यूरो सर्जनों ने तुरंत ऑपरेशन की सलाह दी। चिकित्सकों के परामर्श के बाद पुत्रों ने पिता की सर्जरी कराने पर सहमति जताई।

बेटों की हामी के बाद न्यूरो सर्जन डॉ. कौशल दीप सिंह और डॉ. मोहसिन फयाज ने सर्जरी द्वारा एंदल के दिमाग से ट्यूमर निकाला, साथ ही सिर की हड्डी को निकाल कर दाएं पैर में रख दिया ताकि ठीक होने पर वह हड्डी दोबारा लगायी जा सके। मरीज को सीने में तकलीफ तथा सांस लेने में दिक्कत को देखते हुए लगभग एक पखवाड़े तक आईसीयू में रखा गया। मरीज की हालत में सुधार के बाद सांस की मशीन हटाई गई। एंदल को होश में आने तथा दांई तरफ की कमजोरी ठीक होने के बाद छुट्टी दी गई। चिकित्सकों का कहना है कि ऑपरेशन में क्यूसा मशीन और माइक्रोस्कोप का भी इस्तेमाल किया गया। यह सुविधा इस क्षेत्र के किसी अन्य अस्पताल में नहीं है। इनकी मदद से ही ट्यूमर को पूरा निकाला जा सका।

इस सर्जरी में न्यूरो सर्जन डॉ. कौशल दीप और डॉ. मोहसिन का सहयोग निश्चेतना विशेषज्ञ डॉ. ए.पी. भल्ला, डॉ. सुप्रिया, डॉ. जयेश, डॉ. दिव्या, डॉ. चिराग के अलावा ओटी टेक्नीशियन हिमांशु, रोहित और चंद्रपाल ने किया। मरीज के स्वस्थ होने में सिस्टर शाइबी और दिलीप का भी सराहनीय योगदान रहा।

आर.के. एज्यूकेशनल ग्रुप के अध्यक्ष डॉ. रामकिशोर अग्रवाल, प्रबंध निदेशक मनोज अग्रवाल तथा डीन डॉ. आर.के. अशोका ने एंदल की सफल सर्जरी के लिए चिकित्सकों की टीम को बधाई देते हुए उनकी हौसलाअफजाई की।

– Legend News

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *