BHU कैम्पस को खोलने की मांग कर रहे छात्र गिरफ्तार

वाराणसी। महामना की बगिया BHU कैम्पस को खोलने की मांग को लेकर विश्वविद्यालय के सिंह द्वार पर आंदोलन कर रहे छात्रों को शुक्रवार की तड़के सुबह पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। इन दौरान छात्रों और पुलिस के बीच जमकर नोकझोंक भी हुई। उसके बाद पुलिस ने जबरन छात्रों को घसीटकर गाड़ी में बैठाया और फिर थाने भेज दिया।
जबरन हटाया गया
जानकारी के मुताबिक पुलिस ने धरना स्थल से बीए सेकेंड ईयर के स्टूडेंट आशुतोष कुमार, अविनाश, सुमित, अनुपम और पवन को गिरफ्तार किया है जबकि धरना स्थल पर मौजूद अन्य छात्रों को पुलिस ने खदेड़ कर हटा दिया। उसके बाद पुलिस ने सिंह द्वार से छात्रों की ओर से लगाए गए बैरिकेडिंग और अन्य सामानों को भी हटाया। आंदोलन कर रहे छात्रों की गिरफ्तारी के बाद छात्रों में नाराजगी है। उधर, तनाव को देखते हुए कैम्पस के बाहर पुलिस और पीएससी के जवान मोर्चा संभाले हैं। बताते चलें कि शुक्रवार को छात्रों के आंदोलन का पांचवां दिन था लेकिन दिन की शुरुआत के साथ ही छात्रों को पुलिस ने जबरन हटा दिया।
कैम्पस खोलने के लगातार कर रहे आंदोलन
सरकार के अनलॉक की गाइडलाइंस के बाद सब कुछ खुल गया है। ऐसे में कैम्पस में फिर से सामान्य तौर से पठन-पाठन के कार्य शुरू करने की मांग को लेकर छात्र लंबे समय से आंदोलन कर रहे हैं। 5 दिसम्बर को सबसे पहले छात्रों ने कैम्पस खोलने की मांग को लेकर वीसी आवास के सामने आंदोलन शुरू किया था।
22 फरवरी को कैंपस खोलने की बात कही थी
छात्र एक हफ्ते तक अपनी मांगों के समर्थन में वीसी आवास के बाहर डटे रहे। इसके बाद में वीसी ने छात्रों को बुलाकर बातचीत की और उन्हें कैम्पस खोलने का आश्वासन दिया। इसके बाद भी जब जनवरी महीने में कैम्सप नहीं खुला तो छात्र फिर लामबंद हो गए। इस दौरान कई बात छात्रों ने बीएचयू के सेंट्रल ऑफिस पर धरना भी दिया। जिसके बाद विश्ववविद्यालय प्रशासन ने बैठक कर चरणबद्ध ढंग से 22 फरवरी से कैम्पस खोलने की बात कही थी।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *