स्टुअर्ट बिन्नी ने अंतर्राष्ट्रीय और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास लिया

स्टुअर्ट बिन्नी ने अंतर्राष्ट्रीय और फर्स्ट क्लास क्रिकेट से संन्यास लेने का ऐलान किया है। बिन्नी ने भारत के लिए छह टेस्ट मैच और 14 वनडे इंटरनैशनल मैच खेले थे। इसके अलावा उन्होंने तीन टी20 इंटरनैशनल मैच भी खेले।
पिता रोजर बिन्नी की ही तरह स्टुअर्ट भी लोअर मिडल ऑर्डर में तेज बल्लेबाजी करने के लिए जाने जाते थे। इसके अलावा भी मीडियम पेस सीम और स्विंग गेंदबाजी भी कर सकते थे। वह सीम बॉलिंग के लिए मददगार परिस्थितियों में काफी उपयोगी साबित होते थे।
बिन्नी ने एक बयान जारी कर कहा, ‘मैं आपको बताना चाहूंगा कि मैंने अंतर्राष्ट्रीय और फर्स्ट-क्लास क्रिकेट से संन्यास लेने का फैसला किया है।’ उन्होंने आगे कहा, ‘अंतर्राष्ट्रीय स्तर पर अपने देश का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए अद्भुत खुशी और गर्व की बात रही है।’
उन्होंने कहा, ‘मेरे क्रिकेटीय जीवन में बीसीसीआई ने बहुत अहम किरदार निभाया, मैं इसका आभार व्यक्त करता हूं। कुछ साल में उनका भरोसा और समर्थन काफी शानदार रहा है। अगर कर्नाटक राज्य और उनका सपोर्ट नहीं होता तो मेरा क्रिकेटीय सफर शुरू नहीं होता। राज्य की कप्तानी करना और ट्रोफी जीतना मेरे लिए गर्व की बात है।’
बिन्नी ने अंतर्राष्ट्रीय करियर में कुल 24 विकेट लिए और 459 रन बनाए। उनके नाम भारत के लिए वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करने का रेकॉर्ड है। उन्होंने बांग्लादेश के खिलाफ 4 रन देकर छह विकेट अपने नाम किए थे। बिन्नी के फर्स्ट-क्लास करियर की बात करें तो करीब दो दशक लंबे करियर में उन्होंने 95 मैच खेले। अपने फर्स्ट-क्लास करियर में उन्होंने 148 विकेट लिए और 4796 रन बनाए।
आईपीएल में उन्होंने रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर, राजस्थान रॉयल्स और मुंबई इंडियंस का प्रतिनिधित्व किया। यहां उन्होंने 95 मैचों में 880 रन बनाए और 22 विकेट लिए।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *