भाजपा Core कमेटी की बैठक, UP में मिशन 74 पूरा करने की बनी रणनीति

लखनऊ। भाजपा Core कमेटी की बैठक में मिशन 74 पूरा करने की रणनीति बनी क्‍योंकि मिशन 2019 की फतह को जुटी भाजपा कोई कसर नहीं छोड़ना चाहती है। इसके लिए शीर्ष नेतृत्व के निर्देश पर भाजपा की प्रदेश Core कमेटी की शुक्रवार को यहां हुई बैठक में विचार-विमर्श कर डैमेज कंट्रोल की रणनीति बनाई गई। तय हुआ कि टिकट कटने से नाराज सांसदों की बहुत चिंता करने की जरूरत नहीं है।

जो कार्यकर्ता नाराज हैं उन्हें जरूर मनाया जाए। उनके सम्मान का ख्याल और समायोजन का आश्वासन दिया जाए। जो सांसद टिकट कटने के बाद भी शांत और अनुशासित हैं उनसे बड़े नेता मिलें और उन्हें भविष्य में समायोजन को आश्वस्त करें। जो बगावत की राह पर हैं उन्हें उनके हाल पर छोड़ दिया जाए।

Core कमेटी की बैठक में यह भी तय हुआ कि लोकसभा की सभी सीटों पर बड़े नेता जाएं तो वहां कार्यकर्ताओं या उम्मीदवार को लेकर स्थिति की भी समीक्षा करें। अगर कहीं आपस में कलह दिखे तो समझा-बुझाकर उसे भी दूर करें। प्रत्याशी के साथ सभी को बैठाकर खींचतान खत्म कराएं।

बैठक में अप्रैल के पहले सप्ताह से चुनाव प्रचार की रफ्तार को और तेज करने का फैसला किया गया। तय किया गया कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ और उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य की रोजाना औसतन दो से चार सभाएं कराकर चुनावी माहौल बनाया जाए।

बची सीटों पर तीन-चार दिन में प्रत्याशी

तय किया गया कि प्रदेश में लोकसभा की बची सीटों के उम्मीदवारों की भी जल्द से जल्द घोषणा कर दी जाए और अप्रैल के पहले सप्ताह से सभी 80 सीटों पर चुनाव प्रचार तेजी से शुरू किया जाए। मुख्यमंत्री व उप मुख्यमंत्री केशव की सभाओं के साथ सभी लोकसभा क्षेत्रों में किसी बड़े नेता या केंद्र सरकार के मंत्री की रैली या रोड शो कराने का भी फैसला किया गया है।

शाह की नगीना में कल सभा
बैठक में राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के साथ विचार-विमर्श में बनी रणनीति पर भी चर्चा की गई। शीर्ष नेतृत्व को रोज प्रदेश का फीडबैक भेजने पर भी मंथन किया गया। तय हुआ कि संगठन की तरफ से किसी एक प्रमुख पदाधिकारी को लोकसभा के सभी क्षेत्रों की रोजाना की स्थिति की जानकारी लेने की जिम्मेदारी सौंपी जाए जो रोजाना की स्थिति की जानकारी राष्ट्रीय अध्यक्ष को भेजे। शाह की 31 मार्च को बागपत और नगीना में होने वाली रैली को सफल बनाने पर भी चर्चा हुई।

74 प्लस पर रणनीति
रणनीतिकारों ने पश्चिम के पहले तीन चरण से ही बढ़त बनाने की रणनीति बनाई है। कोर कमेटी के सदस्यों का मानना है कि पश्चिम में भाजपा ने अभी से बढ़त बनाई है। बैठक में अब तक के फीडबैक पर कमेटी के नेताओं ने संतोष जताया। कहा, राष्ट्रीय अध्यक्ष और पीएम मोदी की मेरठ रैली से भाजपा के पक्ष में माहौल बना है। इसको आगे बनाए रखा जाए तो भाजपा का 74 प्लस का लक्ष्य पूरा हो जाएगा।
-एजेंसी

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *