पाकिस्तान के रक्षा मंत्री का बयान: हमारी कार्यशैली अमेरिका को संतुष्ट करने के लिए नहीं

पाकिस्तान के रक्षा मंत्री ने कहा कि यह इस्लामाबाद का काम नहीं है कि वह अमेरिका की उम्मीदों पर खरा उतरे। उन्होंने कहा कि उनकी सरकार वाशिंगटन के साथ अपने समझौतों का पुर्नमूल्यांकन कर रही है।
पाकिस्तानी मीडिया रिपोर्टस के मुताबिक पाक रक्षा मंत्री खुर्रम दस्तगीर खान ने कहा कि हम यहां अपने विचार रखने और सबूत पेश करने के लिए हैं। हम अपनी स्थिति को स्पष्ट करेंगे लेकिन हमारी कार्यशैली अमेरिका को संतुष्ट करने के लिए नहीं है।
ट्रंप की ओर से आतंकवाद पर पाकिस्तान की आलोचना करने पर पाक सरकार अपने समझौतों पर दोबारा मूल्यांकन कर रही है। इस्लामाबाद इस बात से नाराज है कि ट्रंप पाक को आतंकियों के लिए पनाहगाह मानते हैं।
रक्षा मंत्री ने कहा कि हमारे क्षेत्र में स्थितियां बहुत चुनौतीपूर्ण है क्योंकि अमेरिका गोलपोस्ट को बदलता रहता है। उन्होंने यह नहीं बताया कि यह परिवर्तन क्या थे। खान ने कहा कि अमेरिका हमारे खतरे की अनदेखी नहीं कर सकता, यह स्थिति गंभीर है।
रक्षा मंत्री ने कहा कि अमेरिका, भारत और अफगानिस्तान के बीच गठजोड़ पाकिस्तान के लिए खतरा था। खान ने कहा कि अमेरिका खतरों को जानते हुए भी उन्हें नजरअंदाज कर रहा था क्योंकि यह उनका रणनीतिक रुझान था।
-एजेंसी