कर्बला में भगदड़ मचने से 30 से अधिक लोगों की मौत, 100 घायल

कर्बला। इराक के कर्बला शहर में शिया समुदाय के पाक दिन अशूरा पर एक प्रमुख मस्जिद में मंगलवार को भगदड़ मचने से 30 से अधिक लोगों की जान चली गई और 100 से अधिक लोग घायल भी हुए हैं। अशूरा के दौरान पहले कभी यहां भगदड़ की ऐसी कोई भयावह घटना नहीं हुई है। हालांकि, इनके स्मारक मार्च को सुन्नी कट्टरपंथी समूहों ने कई बार निशाना बनाया है।
मृतकों की संख्या में हो सकता है इजाफा
इराक के गृह मंत्रालय के अनुसार राजधानी बगदाद से 100 किलोमीटर दक्षिण स्थित कर्बला में हुए हादसे में करीब 31 लोगों की जान चली गई और अन्य 100 लोग घायल हुए हैं। मंत्रालय के प्रवक्ता सैफ अल-बदर ने बताया कि मृतक संख्या बढ़ सकती है क्योंकि घायलों की हालत गंभीर है। इराक के प्रधानमंत्री ने घटना पर अफसोस जताया और स्वास्थ्य मंत्री ने घायलों का हालचाल लिया।
भगदड़ के बाद हालात हो गए बेकाबू
इराक के कर्बला शहर में दुनियाभर से शिया अशूरा के दिन पहुंचते हैं। सरकारी अधिकारियों के अनुसार, पैदल चलनेवाले यात्रियों के लिए बना एक रास्ता टूट गया जिसके बाद भगदड़ मच गई। भगदड़ के कारण भारी संख्.या में पहुंची भीड़ बेकाबू हो गई और 31 लोगों की मौत और कई लोग घायल हो गए। पिछले कुछ वर्षों में हुई भगदड़ की यह सबसे बड़ी घटना है।
अशूरा हुसैन की कर्बला में शहादत की याद में मनाया जाता है
अशूरा पैगंबर मुहम्मद साहब के नवासे हुसैन की कर्बला में शहादत की याद में मनाया जाता है और पुरी दुनिया से शिया मतावलंबी कर्बला आते हैं।वर्तमान में कर्बला इराक का प्रमुख शहर है जो राधानी बगदाद से 120 किलोमीटर दूर है। मक्‍का-मदीना के बाद कर्बला मुस्लिम धर्म के अनुयायियों के लिए प्रमुख स्‍थान है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »