श्रीकृष्ण-जन्मस्थान ने किया ‘भूखे को रोटी’ सेवा प्रकल्प का विस्तार

मथुरा। वैश्व‍िक महामारी कोरोना से जूझ रही मानवता को किंचित राहत के उद्देश्य से श्रीकृष्ण-जन्मस्थान सेवा-संस्थान द्वारा संचालित लोक कल्याणकरी सेवा प्रकल्पों की श्रृंखला के अन्तर्गत चलाये जा रहे ‘भूखे को रोटी’ सेवा प्रकल्प को विस्तार दिये जाने का निर्णय लिया गया ।

उक्त संदर्भ में जानकारी देते हुए संस्थान के सचिव कपिल शर्मा व प्रबंध-समिति सदस्य गोपेश्वरनाथ चतुर्वेदी ने बताया कि विगत लगभग एक दशक से संस्थान के सौजन्य से प्रतिदिन अपने वाहन के द्वारा मथुरा नगर के ऐसे क्षेत्रों में सांयकालीन भोजन का वितरण कराया जा रहा है, ताकि कृष्ण की नगरी में कोई भूखा न सोये। भोजन व‍ितरण के स्थानों में मथुरा छावनी रेलवे स्टेशन, मथुरा जंक्शन, मालगोदाम रोड, बस स्टैंड , कंकाली देवी व भूतेश्वर प्रमुख केन्द्र हैं।

उन्होंने कहा कि कोरोना की वैश्व‍िक महामारी के कारण गोपाल की नगरी में कोई निराश्रित/साधनहीन व्यक्ति भूखा न सोये, इसलिये इस सेवा को वृहद स्तर पर चलाया जा रहा है। किसी भी कारण से हमारे आसपास कोई व्यक्ति भूखा नहीं सोये, यह हमारा परम कर्तव्य है एवं भक्ति का धर्म भी।

संस्थान की ओर से सभी धर्म प्रेमी कृष्णभक्तों एवं ब्रजवासियों से इस आपदा के समय अपनी सम्पूर्ण सामर्थ्य से जरूरतमंदों की सेवा का विनम्र अनुरोध किया गया है।

सनातन धर्म में ‘नर सेवा – नारायण सेवा’ का भाव हम सभी को ज्ञात है एवं यही ऋष‍ि-मुनियों एवं संतों का संदेश है।

गौरतलब है क‍ि श्रीकृष्ण-जन्मस्थान धार्मिक आयोजन व सांस्कृतिक कार्यक्रमों के साथ साथ सामाजिक सरोकारों के ल‍िए अपने सेवा प्रकल्पों को संचाल‍ित करता है। प्रकल्पों के माध्यम से आमजन की सेवा सततरूप से की जा रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *