सपा प्रवक्‍ता Pankhari Pathak ने छोड़ी पार्टी, कहा-आज की राजनीति में अब दम घुटता है

लखनऊ। सपा प्रवक्‍ता Pankhari Pathak ने आज ट्विटर पर समाजवादी पार्टी छोड़ने का ऐलान करते हुए कहा कि जिसतरह से पार्टी में चापलूसी बढ़ रही है, उससे आहत हूं। उन्‍होंने कहा कि भारी मन से सभी साथियों को सूचित करना चाहती हूँ कि समाजवादी पार्टी के साथ अपना सफ़र मैं अंत कर रही हूँ।

Pankhari Pathak ने आगे लिखा है कि आठ साल पहले विचारधारा व युवा नेतृत्व से प्रभावित हो कर मैं इस पार्टी से जुड़ी थी लेकिन आज ना वह विचारधारा दिखती है ना वह नेतृत्व। जिस तरह की राजनीति चल रही है उसमें अब दम घुटता है।

कभी जाति कभी धर्म तो कभी लिंग को ले कर जिस तरह की अभद्र टिप्पणियाँ लगातार की जाती हैं और पार्टी नेतृत्व सब कुछ जान कर भी शांत रहता है यह दिखता है कि नेतृत्व ने भी इस स्तर की राजनीति को स्वीकार कर लिया है। ऐसे माहौल में अपने स्वाभिमान के साथ समझौता कर के बने रहना अब मुमकिन नहीं है।

मुझे पता है कि इसके बाद मेरे बारे में तरह तरह की अफ़वाहें फैलायी जाएँगी लेकिन मैं स्पष्ट करना चाहती हूँ कि मैं किसी भी राजनैतिक दल से सम्पर्क में नहीं हूँ ना ही किसी से जुड़ने का सोच रही हूँ। अन्य ज़िम्मेदारियों के चलते जो उच्च शिक्षा अधूरी रह थी अब उसे पूरा करने का प्रयास करूँगी।

पंखुड़ी पाठक दिल्‍ली विश्वविद्यालय में लॉ की छात्रा है। समाजवादी पार्टी ने पंखुड़ी को अपने स्पोक पर्सन के रुप में चुना। पंखुड़ी सोशल मीडिया पर भी पार्टी का पक्ष रखते हुए और टीवी चैनलों पर बहस करती दिखतीं थीं।

24 साल की पंखुड़ी दिल्ली की रहने वाली है। इनका कोई राजनीतिक बैकग्राउंड नहीं हैं। इनके माता-पिता डॉक्टर हैं। वहीं छोटा भाई ग्रेजुएशन का छात्र है।

पंखुड़ी पाठक काफी समय से सपा की छात्र सभा से जुड़ी रही हैं। सपा छात्र संघ से जुड़ने के बाद कॉलेज में कई अहम पदों का चुनाव जीत चुकी हैं। साथ ही 2-3 साल तक पार्टी की ओर से कई प्रत्याशि‍यों को छात्रसंघ का चुनाव भी लड़ाया। समाजवाद में विश्वास होने के चलते ही वह 2010 में पार्टी से जुड़ी।
विवादों में पंखुरी
गत विधानसभा चुनावों में अखिलेश यादव के लिए प्रचार करने वाली आगरा की युवती जूही प्रकाश के खिलाफ उन्‍होंने चरित्रहन का अभियान चलाया था, इसकेबाद पंखरी के खिलाफ जूही प्रकाश ने एफआईआर भी दर्ज कराई थी।

-Legend News

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »