डि विलियर्स की भावना का सम्‍मान न करना महंगा पड़ा साउथ अफ्रीका को

इस बात से इंकार नहीं किया जा सकता कि इस वर्ल्ड कप में साउथ अफ्रीकी टीम को सबसे ज्यादा कमी एबी डिविलियर्स की खल रही है। लेकिन यह सुनकर आप हैरान हो जाएंगे कि डिविलियर्स ने वर्ल्ड कप में खेलने की इच्छा जताई थी लेकिन साउथ अफ्रीकी क्रिकेट बोर्ड ने उनके इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया।
इंग्लैंड में खेले जा रहे वर्ल्ड कप में साउथ अफ्रीकी टीम सबसे बुरे दौर से गुजर रही है। दुनिया की मजबूत टीमों में गिनी जाने वाली अफ्रीकी टीम को टूर्नामेंट में अपने पहले तीनों मैचों में हार का सामना करना पड़ा है। इस बात में दोराय नहीं कि उसे वर्ल्ड कप में अपने चैंपियन खिलाड़ी एबी डि विलियर्स की कमी खल रही है। डि विलयर्स के संन्यास लेने के बाद अफ्रीकी टीम का मध्यक्रम अब पहले जैसी स्थिति में नहीं दिख रहा है, जो डि विलियर्स के दौर में होता था लेकिन साउथ अफ्रीका के प्रशंसकों को यह बात और भी हैरान कर सकती है कि एबी डि विलियर्स ने साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड को अपनी टीम के लिए वर्ल्ड कप में खेलने का प्रस्ताव दिया था, जिसे अफ्रीकी बोर्ड ने नकार दिया।
जी हां, वेबसाइट क्रिकइन्फो की एक रिपोर्ट के मुताबिक, ‘एबी डि विलियर्स ने मई के महीने में साउथ अफ्रीका क्रिकेट बोर्ड के सामने यह प्रस्ताव रखा था कि वह साउथ अफ्रीका के लिए वर्ल्ड में खेलना चाहते हैं। डिविलियर्स ने यह प्रस्ताव अफ्रीकी बोर्ड को अपनी 15 सदस्यीय वर्ल्ड कप टीम की घोषणा करने से ठीक एक दिन पहले दिया था।’ इससे पहले बीते साल उन्होंने इंटरनैशनल क्रिकेट से सभी फॉर्मेट से अचानक संन्यास लेकर सभी को हैरान कर दिया था।
हालांकि अफ्रीकी बोर्ड ने डि विलियर्स के इस प्रस्ताव को इसलिए खारिज कर दिया क्योंकि उन्हें संन्यास से वापस बुलाने कई और चीजों पर असर पड़ सकता है। बोर्ड ने अपने सलाह-मशवरे यह भी विचार किया कि यह फैसला टीम के उन खिलाड़ियों के हित में नहीं होगा, जो डिविलियर्स ने क्रिकेट को अलविदा कहने के बाद (बीते एक साल) से एक साथ हैं।
इस रिपोर्ट के मुताबिक डि विलियर्स ने रिटायरमेंट से वापसी के लिए साउथ अफ्रीकी कप्तान फाफ डु प्लेसिस, मुख्य कोच ओटिस गिब्सन और चयनकर्ताओं के संयोजक लिंडा जोंडी के सामने वर्ल्ड कप के लिए टीम में वापसी का प्रस्ताव रखा था। हालांकि टीम मैनेजमेंट ने उनके इस प्रस्ताव को खारिज कर दिया।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »