संक्रामक बीमारियों से भी बचाता है सूप

सर्दी के मौसम में बार-बार भूख लगने पर कुछ न कुछ खाने का दिल करता है लेकिन बार-बार भूख लगने पर कुछ भी तला-भुना या चटर-पटर खाने से वजन बढ़ने का खतरा रहता है। ऐसे में सूप सबसे बढ़िया ऑप्शन है, जो न सिर्फ सर्दियों में वजन बढ़ने से रोकता है बल्कि सर्दी, जुकाम, वायरल जैसी संक्रामक बीमारियों से भी बचाता है। इसके अलावा सूप में मौजूद पोषक तत्व बीमारियों से लड़ने के लिए शरीर की इम्यूनिटी और मेटाबॉलिज्म को भी मजबूत बनाने में मदद करते हैं।
पालक का सूप
पालक में आयरन भरपूर मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा मिनरल्स, विटमिन और दूसरे कई न्यूट्रिएंट्स से भरपूर पालक एक सुपर-फूड है। सर्दियों में आप पालक का सूप पी सकते हैं। पालक में विटमिन ए, सी, ई, के और बी कॉम्प्लेक्स अच्छी मात्रा में पाया जाता है। इसके अलावा इसमें मैगनीज, कैरोटीन, आयरन, आयोडीन, कैल्शियम, मैग्नीशियम, पोटैशियम, सोडियम, फॉस्फॉरस और जरूरी अमीनो ऐसिड भी पाए जाते हैं।
मटर का सूप
सर्दियों में मटर का सूप बहुत फायदेमंद होता है। फाइबर से भरपूर मटर का सूप पीने से पेट लंबे समय तक भरा रहता है जिससे वेट लॉस में मदद मिलती है। मटर के सूप में पोटैशियम होता है जो हमारी बंद नसों को खोलकर ब्लड सर्कुलेशन बनाए रखने में मदद करता है। इससे ब्लड प्रेशर और हार्ट डिजीज में फायदा मिलता है। मटर में मौजूद विटमिन हड्डियों को मजबूत बनाता है। एंटी-इंफ्लेमेंटरी तत्वों के कारण आर्थराइटिस और अल्जामइर के रोगियों के लिए यह सूपर बहुत अच्छा होता है।
स्वीट कॉर्न सूप
जिन लोगों को अस्थमा या लंग्स से संबंधित कोई समस्या है तो उनके लिए ये सूप बहुत ही हेल्दी होता है। न्यूट्रिएंट्स और ऐंटी-ऑक्सिडेंट्स तत्वों से भरपूर यह सूप सर्दियों में होने वाले हार्ट आर्टरीज की ब्लॉकेज को खोलता है, हाइपरटेंशन को कम कर हार्ट अटैक के खतरे को 10 प्रतिशत कम करता है। इसके अलावा इसमें मौजूद बीटा कैरोटीन सर्दियों में होने वाले स्मॉग व प्रदूषण से आपकी आंखों की सुरक्षा करता है। यह आपके लंग्स को हेल्दी रखने में मदद करता है।
टमाटर का सूप
टमाटर का सूप हर किसी का पसंदीदा होता है। विटमिन सी और ए से भरपूर होने के कारण बैड कलेस्ट्रॉल को कम कर हार्ट आर्टिरीज में होने वाली ब्लॉकेज को दूर करता है। टमाटर में मौजूद लाइकोपीन नामक तत्व बॉडी फैट को कम करने में हेल्प करता है। इसमें मौजूद सेलेनियम बॉडी में ब्लड की कमी को दूर करता है और ब्लड सर्कुलेशन को बढ़ाता है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »