प्यार को मजबूत बनाए रखने में काफी मदद करती हैं कुछ आदतें

रिलेशनशिप में आने पर कपल न चाहते हुए भी एक-दूसरे में कई बदलाव ले आता है लेकिन कुछ आदतें ऐसी भी होती हैं जो रिश्ते की शुरुआत से लेकर हमेशा ही बनी रहनी चाहिए। इससे प्यार को मजबूत बनाए रखने में काफी मदद मिलती है।
रिश्ते की शुरुआत में अट्रैक्शन के बाद प्यार की स्टेज आती है जो इतनी स्ट्रॉन्ग होती है कि दो लोग जिंदगीभर के लिए एक-दूसरे को अपना बनाने तक का फैसला कर लेते हैं। हालांकि आपने भी ऐसे कई कपल्स देखे होंगे जो यह शिकायत करते दिखते हैं कि शादी के बाद प्यार और विश्वास को लेकर पैमाने बदल जाते हैं। इन बदलावों को कुछ कपल्स साथ में स्वीकार करते हैं तो कुछ के लिए ये अलग होने की वजह बन जाते हैं। आपको अपने लव्ड वन से अलग न होना पड़े इसलिए हम बता रहे हैं 5 ऐसी आदतें जो हमेशा रिलेशनशिप में प्यार को बरकरार रखेंगी।
दिन की सही शुरुआत
लेज़ी हस्बैंड न बनें बल्कि सुबह पत्नी के साथ उठकर नाश्ते से लेकर टिफिन के लिए लंच तैयार करने में उनका हाथ बटाएं। अगर आपके बच्चे हैं तो जिम्मेदारी बांट लें और एक खाना बनाने की जिम्मेदारी ले ले तो दूसरा बच्चों को स्कूल के लिए तैयार करने की। इतना मार्जिन भी जरूर निकालें कि कम से कम नाश्ता आप दोनों साथ जरूर कर सकें। इससे होगा ये कि सुबह अकेले काम करने के कारण होने वाले स्ट्रेस से पत्नी को परेशान नहीं होना पड़ेगा। यह उनकी नजरों में एक जिम्मेदार पार्टनर होने के नाते आपकी इज्जत और बढ़ा देगा।
कॉन्टैक्ट बनाए रखना
भले ही आप शहर से बाहर हों या फिर ऑफिस में, गर्लफ्रेंड या पत्नी को मेसेज या कॉल जरूर करें। आपकी जॉब के बीच यह न भूलें कि आप रिलेशनशिप में भी हैं। ऐसे में खाना, ऑफिस, शाम के प्लान जैसी चीजों से जुड़े छोटे-छोटे मेसेज जरूर कर दिया करें। इससे दोनों को एक-दूसरे से बेहतर इमोशनल कनेक्शन बनाए रखने में मदद मिलेगी। हां, लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल नहीं है कि अगर सामने वाला व्यस्त हो तब भी आप उसे कॉल पर कॉल लगाए जाएं क्योंकि यह स्थिति तो झगड़े की वजह बन सकती है।
डिनर टाइम और बात
ब्रेकफस्ट और लंच की तरह ही डिनर बनाने में भी पत्नी की मदद करें। इससे आपको ऑफिस के बाद साथ में बातें करने का टाइम मिलेगा। अगर एक पार्टनर किचन में लगा रहे और दूसरा टीवी या मोबाइल में व्यस्त हो जाए तो इससे कपल वो समय खो देता है जो वो आसानी से साथ बिता सकता था। काम और डिनर करते हुए दिन कैसा बीता से लेकर किसी भी टॉपिक पर बात की जा सकती है। यह एक-दूसरे की डेली लाइफ से जोड़े रखने के साथ ही इमोशनली व प्रैक्टिकली चीजों को बेहतर तरीके से समझने में मदद करेगा।
आई लव यू कहने में न हिचकिचाएं
प्यार के इन तीन शब्दों को अक्सर कपल रिलेशनशिप की शुरुआती स्टेज में तो काफी बोलता है, लेकिन धीरे-धीरे ये चीज खोने लग जाती है। कपल को लगने लग जाता है कि जब साथ में ही हैं, तो फिर इन शब्दों को बार-बार क्या कहना? लेकिन यकीन मानिए ये तीन शब्द रिश्ते में प्यार को बरकरार रखने में काफी मदद करते हैं। इन शब्दों से पार्टनर को हमेशा इसका अहसास रहता है कि उसका साथी उससे प्यार करता है और इस फीलिंग्स के कारण रिश्ते में गलतफहमियों को भी दूर रखने में मदद मिलती है।
सॉरी-थैंक यू और तारीफ
बचपन में तो आपने सॉरी और थैंक यू बोलना काफी सीखा होगा और आप इन शब्दों का अब भी इस्तेमाल करते होंगे लेकिन क्या आप पार्टनर को भी ये शब्द कहते हैं? दरअसल, कमिटमेंट में आने के बाद सभी चीजों को बहुत हल्के में ले लिया जाता है। प्यार से की जाने वाली चीज कब जिम्मेदारी बन जाती है, इसका पता ही नहीं चलता। उदाहरण के लिए आप ऑफिस से आए और पत्नी ने आपको पानी का ग्लास दिया। अगर आप इसके बाद उन्हें शुक्रिया कहते हैं, तो यह जताता है कि वह जो आपके लिए छोटी-छोटी चीजें भी करती हैं, वह आपके लिए वैल्यू रखती हैं।
इसी तरह पार्टनर के अचीवमेंट्स, उनकी मेहनत, घर को संभालना, टेस्टी डिश बनाना या करियर में नई ग्रोथ पाना, वजह चाहे जो भी हो तारीफ जरूर करें। तारीफ हमेशा ही पॉजिटिव बूस्टिंग का काम करती है, जो रिश्ते के लिए भी पॉजिटिव साबित होगी।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »