आयुर्वेद के कुछ ऐसे नुस्खे भी तनाव को दूर भगाने में कारगर हैं

आजकल की भाग-दौड़ भरी लाइफस्टाइल में लोगों का तनावग्रस्त होना आम बात है। तनाव यानी स्ट्रेस से राहत पाने के लिए योग और ध्यान से लेकर तमाम तरह के उपाय मौजूद हैं। इसके साथ ही आयुर्वेद के कुछ ऐसे नुस्खे भी हैं जो तनाव को दूर भगाने में कारगर हैं।
जानें आयुर्वेद के वे आसान उपाय जिनका इस्तेमाल कर आप काफी हद तक तनाव से छुटकारा पा सकते हैं..
दिमाग को शांत रखती है ब्राह्मी
ब्राह्मी तनाव पैदा करने वाले हार्मोन कोर्टिसोल को कम करने का काम करती है। यह तनाव के प्रभावों पर प्रतिक्रियात्मक कार्यवाही करने के लिए भी जानी जाती है। ब्राह्मी दिमाग को शांत रखने के साथ-साथ एकाग्रता बढ़ाने में भी काफी मददगार है।
भृंगराज से मिलती है दिमाग को एनर्जी
भृंगराज दिमाग को निरंतर एनर्जी देने का काम करती है। इससे मस्तिष्क में रक्त प्रवाह दुरुस्त रहता है। यह दिमाग को शांत तो रखती ही है, साथ ही साथ पूरे शरीर को भी काफी आराम पहुंचाती है। इसके तेल से सिर पर मसाज करने पर तनाव से राहत मिलती है।
शरीर को टॉक्सिन मुक्त करती है जटामासी
जटामासी, ऐंटी स्ट्रेस हर्ब के रूप में काफी लोकप्रिय है। तनाव भगाने के लिए जटामासी की जड़ों का उपयोग औषधि के रूप में भी किया जाता है। यह जड़ें हमारे दिमाग और शरीर को टॉक्सिन से मुक्त बनाती हैं और ब्रेन फंक्शन्स को दुरुस्त रखने में काफी मदद करती हैं।
स्टैमिना बढ़ाती है अश्वगंधा
अश्वगंधा एमीनो ऐसिड और विटमिन का बेहतरीन संयोजन है। यह दिमाग में एनर्जी को बूस्ट करने और स्टैमिना मजबूत करने में काफी मदद करती है।
लखनऊ के आयुर्वेदाचार्य सरोज कुमार के मुताबिक तनाव शरीर को कई तरह से नुकसान पहुंचाता है। इसकी वजह से शरीर में पित्त, कफ और वात का असंतुलन हो जाता है। इसके अलावा ऐलर्जी, अस्थमा, हाई कलेस्ट्रॉल और हाइपरटेंशन जैसी समस्याएं भी डिप्रेशन की वजह से जन्म लेती हैं। वैसे तो आयुर्वेदिक औषधियों के सेवन से तनाव से आसानी से छुटकारा पाया जा सकता है लेकिन डॉक्टर की सलाह से ही इन औषधियों का सेवन करना चाहिए।
-एजेंसी