कर्नाटक में वोटिंग के बीच सिद्धारमैया ने कहा, दिमागी रूप से बीमार हैं येदियुरप्पा

बेंगलुरु। कर्नाटक में 222 विधानसभा सीटों पर हो रही वोटिंग के बीच सियासी दलों के नेताओं के बीच जुबानी जंग भी जारी है। बीजेपी के सीएम कैंडिटेड बीएस येदियुरप्पा के 150 सीटें जीतने के दावे पर मौजूदा सीएम सिद्धारमैया ने सवाल उठाया है। सिद्धारमैया का कहना है कि येदियुरप्पा दिमागी रूप से बीमार हैं और 150 विधानसभा सीटें जीतने का दावा कर रहे हैं।
सिद्धारमैया ने दावा किया है कि कर्नाटक में एक बार फिर से कांग्रेस फिर से सत्ता में आएगी और बहुमत से आएगी। कांग्रेस 120 सीटें जीतेगी और उनकी खुद की दो सीटों (बादामी और चामुंडेश्वरी) पर जीत तय है। जब उनसे यह पूछा गया कि क्या वह चुनाव को लेकर नर्वस हैं, उन्होंने कहा कि क्या किसी को ऐसा लगता है। वह पूरी तरह स्वस्थ हैं और चुनाव जीतने को लेकर आश्वस्त भी।
‘सरकार बनाने का सपना देख रही बीजेपी’
इधर, कांग्रेस नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने भी कहा है कि हमें खुदपर विश्वास है। बीजेपी 60-70 से ज्यादा सीटें जीत नहीं पाएगी, 150 मिलना तो भूल ही जाए। वह (येदियुरप्पा) सिर्फ सरकार बनाने का सपना देख रहे हैं।
इससे पहले शिमोगा में वोट डालने के बाद येदियुरप्पा ने कहा, ‘आज बेहद शुभ दिन है। हर किसी को बाहर आकर वोट देना चाहिए। बीजेपी को चुनाव में 150 से अधिक सीटें मिलेंगी और मैं 17 मई को सरकार बनाने जा रहा हूं।’ वोट डालने से पहले येदियुरप्पा ने अपने घर में पूजा भी की।
जेडीएस ने भी किया जीत का दावा
इस बीच जेडीएस ने भी कर्नाटक चुनाव में जीत का दावा किया है। जेडीएस नेता और पूर्व प्रधानमंत्री एचडी देवगौड़ा ने कहा कि हम सरकार बनाने की संभावना को लेकर उम्मीद कर रहे हैं, हमने अच्छा प्रदर्शन किया है। वहीं, रामनगर में अपना वोट डालने पहुंचे जेडीएस नेता और पूर्व सीएम एचडी कुमारस्वामी ने कहा, ‘हमें विश्वास है कि जेडीएस अपने आप मैजिक नंबर पार करेगा।’
‘पीएम ने मंदिर जाने के लिए आज का दिन ही क्यों चुना?’
नेपाल दौरे पर गए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मतदाताओं से अपने वोट डालने के लिए बड़ी संख्या में बाहर आने का आग्रह किया है। हालांकि, कांग्रेस ने चुनाव के बीच पीएम के नेपाल दौरे और मंदिर में दर्शन को लेकर सवाल भी उठाया है। कांग्रेस नेता अशोक गहलोत ने कहा कि कर्नाटक में आदर्श आचार संहिता लागू है इसलिए प्रधानमंत्री मोदी ने मतदाताओं को प्रभावित करने के लिए नेपाल के मंदिरों में प्रार्थना करने की योजना बनाई। यह लोकतंत्र के लिए एक अच्छी प्रवृत्ति नहीं है। उन्होंने आज का ही दिन इसके लिए क्यों चुना?
बता दें कि कर्नाटक में 222 विधानसभा सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। 15 जनवरी को वोटों की गिनती होगी। दो सीटों (आरआर नगर और जयनगर) पर वोटिंग नहीं हो रही है। बेंगलुरु के आरआर नगर के एक घर से हजारों की तादाद में सामने आए फर्जी आईकार्ड के मामले को देखते हुए चुनाव आयोग ने इस सीट पर होने वाली वोटिंग को आगे के लिए टाल दिया है, वहीं जयनगर सीट पर बीजेपी उम्मीदवार बी. एन. विजयकुमार के निधन के कारण चुनाव स्थगित कर दिया गया।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »