Shivraj Singh बोले, छन्नी लगाकर आधी-अधूरी कर्ज माफी की घोषणा घोर अन्याय है

Shivraj Singh ने कहा कि कांग्रेस ये ठीक से जान ले कि मैं सोया नहीं हूं, मैं जाग रहा हूं और मेरी पैनी नजरें उन पर ही हैं

भोपाल। पूर्व मुख्यमंत्री Shivraj Singh चौहान ने कह कि छन्नी लगाकर आधी-अधूरी कर्ज माफी की घोषणा घोर अन्याय है। अब किसानों के पूरे कर्ज की माफी की मांग की है। गुरुवार को ट्वीट कर उन्होंने कहा कि 31 मार्च 2018 तक का टाइम बैरियर लगाकर, छन्नी लगाकर आधी-अधूरी कर्ज माफी की घोषणा मेरे प्रदेश के किसान भाइयों-बहनों के साथ घोर अन्याय है। कांग्रेस को ऐसे छलावे से दूर रहना चाहिए।

शिवराज ने कहा कि कांग्रेस ये ठीक से जान ले कि मैं सोया नहीं हूं, मैं जाग रहा हूं और मेरी पैनी नजरें उन पर ही हैं। Shivraj Singh ने इससे पहले बुधवार को भी भाजपा कार्यकर्ताओं से कहा था कि कर्ज माफी का मतलब है कि जिसने पैसा समय पर दे दिया, उसका भी कर्ज माफ किया जाए। इसके लिए पूरे प्रदेश में लड़ाई लड़ूंगा।

एक अन्य ट्वीट भी सुर्खियों में

शिवराज जब से मुख्यमंत्री पद से हटे हैं, रोज कुछ न कुछ ऐसा कह रहे हैं कि वह सुर्खियां बटोर रहे हैं। एक दिन पहले उन्होंने कार्यकर्ताओं का हौसला बढ़ाते हुए कहा था कि चिंता मत करना, टाइगर अभी जिंदा है। अब गुरुवार को उन्होंने ट्वीट कर कहा कि हर एक लंबी दौड़ या ऊंची छलांग से पहले दो कदम पीछे हटना पड़ता है। शिवराज के इस ट्वीट के भी मायने निकाले जा रहे हैं।

मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री का पद संभालते ही कमलनाथ ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी एवं प्रदेश के विधानसभा चुनाव में पार्टी के ‘वचन पत्र’ (घोषणा पत्र) में किये गये कर्ज माफी के वादे के अनुसार सोमवार की शाम को सबसे पहले किसानों के दो लाख रुपये तक की कर्जमाफी की फाइल पर हस्ताक्षर किये थे। कर्ज माफी की फाइल पर हस्ताक्षर करने के बाद मध्य प्रदेश के किसान कल्याण तथा कृषि विकास विभाग के प्रमुख सचिव डॉ. राजेश राजोरा ने इस संबंध में तुरंत उसी दिन आदेश जारी कर दिये गये थे।

सोमवार की शाम को जारी इस आदेश में कहा गया है, ‘‘मध्य प्रदेश शासन में द्वारा निर्णय लिया जाता है कि मध्य प्रदेश राज्य में स्थित राष्ट्रीयकृत तथा सहकारी बैंकों में अल्पकालीन फसल ऋण के रूप में शासन द्वारा पात्रता अनुसार पात्र पाये गये किसानों के दो लाख रूपये की सीमा तक का 31 मार्च 2018 की स्थिति में बकाया फसल ऋण माफ किया जाता है। ”

राहुल गांधी ने इस साल सात जून को मंदसौर जिले की पिपल्या मंडी में एक रैली में घोषणा की थी कि अगर मध्य प्रदेश में उनकी सरकार आएगी, तो वह 10 दिन के अंदर किसानों का कर्ज माफ कर देगी। 11वां दिन नहीं लगेगा। इसके बाद कांग्रेस ने किसानों के कर्ज माफी को अपने ‘वचन पत्र’ में शामिल किया था।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »