Sheikh Hasina ने कहा, अपनी जमीन का आतंकवाद के लिए इस्तेमाल नहीं होने देंगे

ढाका। गृह मंत्री राजनाथ सिंह ने आज बांग्लादेश के प्रधानमंत्री Sheikh Hasina से मुलाकात कर आतंकवाद के खतरे सहित आपसी चिंता के मुद्दों पर चर्चा की। सिंह तीन दिवसीय दौरे पर कल यहां पहुंचे। Sheikh Hasina के के साथ उनके सरकारी आवास पर मुलाकात के बाद सिंह ने ट्वीट किया , ‘ आज बांग्लादेश के प्रधानमंत्री शेख हसीना के साथ ढाका में बेहद उपयोगी बैठक हुई।

हमने आपसी हित की कई द्विपक्षीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की।’ सिंह ने Sheikh Hasina से कहा , ‘ अगर क्षेत्र के सभी देश आपस में हाथ मिला लेते हैं तो उग्रवाद और आतंकवाद को उखाड़ फेंकना संभव है।’ हसीना ने कहा कि बांग्लादेश और भारत ने बातचीत के जरिये भूमि और सीमा समझौते सहित अब तक कई सारे लंबित मुद्दों का समाधान किया है।

उन्होंने कहा , ‘ हम उम्मीद करते हैं कि बातचीत के जरिए ही अन्य मुद्दों को भी सुलझा लिया जायेगा। ‘ हसीना ने दोहराया कि बांग्लादेश किसी अन्य देश के खिलाफ आतंकवादियों को अपनी धरती का इस्तेमाल नहीं करने देने के रूख पर कायम है। इस दौरान सिंह, बांग्लादेश के गृह मंत्री असदुज्जमां खान कमाल के साथ छठे भारत – बांग्लादेश गृह मंत्री स्तरीय बातचीत की सह अध्यक्षता करेंगे।

बांग्लादेश दौरे पर राजनाथ सिंह, भारतीय वीजा सेंटर का किया उद्घाटन

केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह बांग्लादेश के तीन दिवसीय यात्रा पर हैं। राजनाथ ने यहां बांग्लादेशी गृहमंत्री असदुजमान खान के साथ भारतीय वीजा सेंटर का उद्घाटन किया। राजनाथ इसके बाद असदुजमान खान के साथ बैठक करेंगे, जिसमें वे दोनों देशों के बीच आतंकवाद विरोधी तंत्र को मजबूत करने और आतंकवादी समूहों द्वारा युवाओं के कट्टरपंथीकरण की जांच के तरीकों पर भी चर्चा करेंगे। इससे पहले राजनाथ ने बांग्लादेश की प्रधानमंत्री शेख हसीना से मुलाकात की और द्विपक्षीय व क्षेत्रीय मुद्दों पर चर्चा की।

अपने दौरे के आखिरी दिन (15 जुलाई) गृहमंत्री बांग्लादेश के राजशाही में पुलिस अकादमी में फारेंसिक सेंटर और आइटी सेंटर का उदघाटन करेंगे। इन दोनों संस्थान को भारत सरकार की मदद से बनाया गया है। इस संस्थाओं में काम करने वालों की ट्रेनिंग भी भारत में हुई है।

गृहमंत्री की इस यात्रा के दौरान भारत और बांग्लादेश के बीच दोस्ती को और मजबूत करने के लिए भारत सरकार के माध्यम से बांग्लादेश को दी जाने वाली आर्थिक सहायता बढ़ाने का ऐलान हो सकता है। दरअसल, बांग्लादेश को दी जाने वाली कम दर पर आर्थिक सहायता दोगुनी करने पर विचार किया जा रहा है, मौजूदा समय में यह दो बिलियन डॉलर है जिसे चार बिलियन डॉलर किया जा सकता है।

 

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »