मेजर आदित्य कुमार और शहीद राइफलमैन औरंगजेब को शौर्य चक्र

नई दिल्ली। अदम्य साहस और वीरता के लिए मेजर आदित्य कुमार और राइफलमैन औरंगजेब (मरणोपरांत) समेत 20 को शौर्य चक्र दिए जाएंगे। हिज्बुल आतंकी समीर टाइगर को मारने वाली टीम में शामिल औरंगजेब की कश्मीर में अगवा कर हत्या कर दी गई थी। मेजर आदित्य शोपियां में पत्थर फेंकती भीड़ पर फायरिंग से चर्चा में आए थे। समुद्र की परिक्रमा कर चुकीं नेवी की 6 महिला अफसरों को वीरता पुरस्कार दिए जाएंगे।
जम्मू कश्मीर लाइट इंन्फैंटरी में तैनात राइफलमैन औरंगजेब का आतंकियों ने 15 जून को अपहरण कर लिया था जब वह ईद मनाने के लिए छुट्टी पर अपने घर के लिए निकले थे। बाद में उनका गोलियों से छलनी शव मिला। आतंकियों की तरफ से औरंगजेब से पूछताछ का एक वीडियो भी जारी किया गया था जिसमें औरंगजेब बेखौफ आतंकियों की आंखों में आंख डाल कर बात कर रहे थे। औरंगजेब आतंकी समीर टाइगर को मुठभेड़ में मारने वाली टीम में शामिल थे।
गढ़वाल राइफल में तैनात मेजर आदित्य को भी शौर्य चक्र के लिए चुना गया है। मेजर आदित्य जम्मू-कश्मीर में तैनात हैं। 27 जनवरी को सेना का काफिला सर्च ऑपरेशन से लौट रहा था उस वक्त शोपियां में प्रदर्शनकारियों ने काफिले पर पथराव शुरू कर दिया। जवानों को अपनी जान बचाने के लिए फायरिंग करनी पड़ी जिसमें तीन पत्थरबाज मारे गए थे। जिसके बाद जम्मू-कश्मीर सरकार ने मेजर आदित्य और उनके साथियों पर एफआईआर दर्ज करने का आदेश दिया था। मेजर आदित्य के पिता ने एफआईआर को सुप्रीम कोर्ट में चुनौती दी है। सेंट्रल रिजर्व पुलिस फोर्स को भी 5 शौर्य चक्र, दो राष्ट्रपति पुलिस मेडल और 89 पुलिस मेडल प्रदान किया गया है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »