Sharmistha Mukherjee का दिल्ली कांग्रेस मीडिया प्रमुख पद से इस्तीफा

नई दिल्‍ली। पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की बेटी Sharmistha Mukherjee ने दिल्ली कांग्रेस मीडिया प्रमुख पद से इस्तीफा दे दिया है। शर्मिष्ठा ने आज ही अपने पद से इस्तीफा दिया। हालांकि वो महिला कांग्रेस अध्यक्ष बनी रहेंगी। Sharmistha Mukherjee की जगह रमाकांत गोस्वामी ने ली है।

लोकसभा चुनाव से पहले कांग्रेस के लिए ये एक बड़ा झटका के तौर पर देखा जा रहा है। हालांकि शर्मिष्ठा मुखर्जी ने अपने पद से इस्तीफा देने के पीछे की वजह नहीं बताई है।

मिली जानकारी के अनुसार लोकसभा चुनाव के मुद्देनजर बनी कमेटियों में जगह नहीं मिलने से हैं नाराज हैं। बता दें कि शर्मिष्ठा मुखर्जी पूर्व राष्ट्रपति प्रणव मुखर्जी की बेटी हैं।

गत 2 फरवरी को केजरीवाल पर भड़की थीं कांग्रेस अध्यक्ष शर्मिष्ठा मुखर्जी

प्रदेश कांग्रेस की मुख्य प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने बुधवार को राजीव भवन में आयोजित पत्रकार वार्ता कहा कि केजरीवाल और नरेंद्र मोदी को अपने मुस्कुराते चेहरों के होर्डिंग लगवाकर जनता का पैसा बर्बाद करने की बजाए केंद्र और दिल्ली सरकार को लोगों में कानूनी जागरूकता और कानून का भय तथा जघन्य अपराधों के प्रति जागरूकता बढ़ाने का काम करना चाहिए।

दिल्ली पुलिस के रिकार्ड में अमन विहार को जघन्य अपराधों व बच्चों के विरुद्ध यौन शोषण और देह व्यापार के लिए कुख्यात माना गया है। उन्होंने सवाल किया है कि आखिर दिल्ली पुलिस वहां अधिक फोर्स क्यों नहीं लगाती?

दिल्ली में महिलाओं के विरुद्ध बढ़ते जघन्य अपराधों को रोकने में असफल होने पर केजरीवाल को सीएम पद से इस्तीफा दे देना चाहिए।

उन्होंने कहा कि केजरीवाल और नरेन्द्र मोदी ने वायदा किया था कि बलात्कार और पास्को से संबंधित अपराधों के निपटारे के लिए फास्ट ट्रेक अदालते बनाई जाएंगी लेकिन न मालूम इन वायदों का क्या हुआ। आप सरकार ने कांग्रेस सरकार द्वारा स्थापित जेंडर रिसोर्स सेंटर्स को दिल्ली में बंद कर दिया है।

शीला सरकार द्वारा स्थापित 103 जेंडर रिसोर्स सेंटर्स, 26 विस्तारित सेंटर, 5 होमलेस रिसोर्स सेंटर, 5 जिला रिसोर्स सेंटर, 43 आवाज उठाओं सेंटर और 181 हेल्पाइन नम्बर जो सीधे मुख्यमंत्री के कार्यालय द्वारा मॉनीटर किया जाता थे, उनको भी बंद कर दिया गया।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »