शरद पवार ने बताए पीएम पद के तीन दावेदार, राहुल का नंबर चौथा

मुंबई। राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (एनसीपी) के अध्‍यक्ष शरद पवार ने कहा है कि यदि नरेंद्र मोदी के नेतृत्‍व में एनडीए स्‍पष्‍ट बहुमत साबित करने में असफल रहती है तो पश्चिम बंगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी, आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू और उत्‍तर प्रदेश की पूर्व सीएम मायावती प्रधानमंत्री पद के लिए प्रमुख दावेदार होंगे।
पवार का यह बयान ऐसे समय पर आया है जब ये तीनों ही नेता अधिक से अधिक सीटें जीतने के लिए कड़ी मशक्‍कत कर रहे हैं।
शरद पवार ने कहा, ‘प्रधानमंत्री बनने से पहले नरेंद्र मोदी गुजरात के चीफ मिनिस्‍टर थे।
मेरी राय में चूंकि एनडीए के स्‍पष्‍ट बहुमत पाने की संभावना कम है, ऐसे ममता बनर्जी, चंद्रबाबू नायडू और मायावती पीएम पोस्‍ट के लिए बेहतर विकल्‍प हैं।’
पवार ने उन रिपोर्ट्स को खारिज कर दिया जिसमें उनके हवाले से कहा जा रहा था कि मायावती, ममता और नायडू पीएम पद के लिए कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी की अपेक्षा ज्‍यादा अच्‍छे दावेदार हैं।
‘लोकसभा चुनाव में बीजेपी को हराना हमारा लक्ष्‍‍य’
पवार ने कहा कि राहुल ने कई मौकों पर खुद ही कहा है कि वह प्रधानमंत्री पद के दावेदारों में शामिल नहीं हैं। एनसीपी चीफ ने कहा, ‘इस (बिन्‍दु) पर कोई भी बहस अप्रासंगिक है।’
बता दें कि एक सप्‍ताह पहले जब नायडू और पवार मुंबई में थे, तब टीडीपी चीफ ने कहा था कि वह पीएम पद की ओर नहीं देख रहे हैं। नायडू ने कहा कि उनका मुख्‍य लक्ष्‍य लोकसभा चुनाव में बीजेपी को हराना है।
इससे पहले चुनाव प्रचार के दौरान पवार ने दावा किया था कि लोकसभा चुनाव में बीजेपी की सीटें बहुत ज्‍यादा कम होंगी। उन्‍होंने कहा, ‘सभी मोर्चों पर सरकार के असफल होने को देखते हुए मैं यह महसूस करता हूं कि बीजेपी की कम से कम 100 सीटें कम होंगी। एनडीए को स्‍पष्‍ट बहुमत मिलना मुश्किल होगा। हमें प्रधानमंत्री पद के लिए नए विकल्‍पों पर विचार करना होगा।’
‘पीएम बनने के बारे में सोचना भी तर्कहीन’
हालांकि उन्‍होंने यह भी कहा कि वह इस शीर्ष पद की दौड़ में शामिल नहीं हैं। पवार ने कहा, ‘एनसीपी केवल 22 सीटों पर लड़ रही है। यदि हम 22 सीटें भी जीतते हैं तो भी सरकार बनाने के लिए जरूरी आंकड़े तक नहीं पहुंच पाएंगे। पीएम बनने के बारे में सोचना भी तर्कहीन होगा।’ उधर, कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता ने कहा कि एनडीए के फेल होने पर भले ही कोई महागठबंधन न हो लेकिन गैर-एनडीए दलों को एकजुट करने में पवार की भूमिका महत्‍वपूर्ण होगी।
कांग्रेस नेता ने कहा, ‘मोदी को सत्‍ता से बाहर रखने के लिए पवार सभी बीजेपी विरोधी पार्टियों को एकजुट कर सकते हैं। हम इस बात से आश्‍चर्यचकित नहीं होंगे कि शिवसेना भी उनके (पवार के) प्रस्‍ताव को अपना समर्थन दे दे।’ बता दें कि ममता बनर्जी और मायावती दोनों ने इस बात के संकेत दिए हैं कि वे पीएम पद के दावेदारों में शामिल हैं।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *