मेरठ में पुलिस मुठभेड़ में एक लाख का इनामी बदमाश शक्ति नायडू ढेर

मेरठ। दिल्ली का वांटेड एक लाख का इनामी शक्ति नायडू कंकरखेड़ा में पुलिस मुठभेड़ में ढेर हो गया है। नायडू ने एक माह पहले अपने साथी की कंकरखेड़ा में गोली मारकर हत्या कर दी थी। नायडू का साथी भूरा मुठभेड़ के दौरान पुलिस को चकमा देकर फरार हो गया है। मुठभेड़ में सीओ दौराला ज‍ितेंद्र कुमार भी घायल हो गए हैं। मारे गए बदमाश के पास से एक कारबाइन बरामद हुई है। एडीजी समेत तमाम आला अफसर मौके पर पहुंचे।

दिल्ली के एसीपी की हत्या की साजिश रचने वाले सरगना शक्ति नायडू को मेरठ पुलिस ने मुठभेड़ में मार गिराया है। पुलिस ने शक्ति पर दो लाख रुपये का इनाम रखा हुआ था। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भिजवा दिया है।
बता दें कि कंकर खेड़ा क्षेत्र में मंगलवार को पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हो गई। इस दौरान बदमाशों ने फायरिंग करते हुए भागने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने बदमाशों को घेर लिया।फिर पुलिस की जवाबी कार्रवाई में दो लाख का इनामी बदमाश ढेर हो गए।

ये था मामला
मेरठ पुलिस ने दिल्ली के एसीपी और मेरठ के इंस्पेक्टर की हत्या की साजिश को लेकर बड़ा खुलासा किया था। दिल्ली निवासी सरगना शक्ति नायडू दोनों की हत्या कराकर पश्चिमी यूपी में अपना नेटवर्क जमाना चाहता था। इसके लिए उसने अपने साथियों के संग मिलकर खौफनाक साजिश रची थी। इंस्पेक्टर और एसीपी की हत्या का दिन मुकर्रर किया लेकिन एन वक्त पर पूरी वारदात पलट गई और बदमाशों में आपस में ही गोलीबारी हो गई। इसमें कुख्यात नायडू के साथी बदमाश चाचा और भतीजे को गोली लगी जिसमें भतीजे की मौत हो गई।

दिल्ली स्पेशल सेल के एसीपी (एडिशनल कमिश्नर ऑफ पुलिस) ललित मोहन नेगी ने दिल्ली निवासी सरगना शक्ति नायडू पर मकोका की कार्रवाई की थी। जिसके बाद नायडू ने एसीपी को रास्ते से हटाने की प्लानिंग करनी शुरू कर दी।

एसीपी का देहरादून आना जाना था, ऐसे में कुख्यात नायडू ने मेरठ में अपना नेटवर्क मजबूत करना शुरू किया ताकि वह एसीपी को आसानी से निशाना बना सके। लेकिन उसकी इस प्लानिंग में मेरठ का एक इंस्पेक्टर राह का रोड़ा बन रहा था।

– एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »