‘द जर्नी ऑफ कर्मा’ के प्रमोशन में जुटे शक्ति कपूर

मुंबई। अभिनेता शक्ति कपूर इन दिनों अपनी फिल्म ‘द जर्नी ऑफ कर्मा’ के प्रमोशन में जुटे हैं। इस फिल्म में वह पूनम पांडे के साथ रोमांस करते नजर आएंगे।
फिल्म के टीजर लॉन्च के मौके पर शक्ति कपूर ने फिल्म के अलावा बदलते सिनेमा, अपनी बिटिया श्रद्धा कपूर की फिल्मों सहित और भी विषयों पर हमसे की खास बातचीत:
क्या है? ‘द जर्नी ऑफ कर्मा’
अपनी फिल्म ‘द जर्नी ऑफ कर्मा’ के बारे में शक्ति बताते हैं, ‘यह एक ऐसे अमीर आदमी की कहानी है जो अपने इंटरनल लाइफ में तमाम समस्यायों से जूझ रहा है। उसका परिवार ही उसके साथ चीट करता है। उसके लाइफ में अकेलापन है। वह किसी को बताता नहीं है कि कहां है और क्या करने वाला है। वह आगे की अपनी लाइफ एक स्लम में गुजारता है, जहां उसे एक यंग लड़की से प्यार हो जाता है और वह लड़की उसे सभी खुशियां देती है, जो उसे पूरे जीवन में नहीं मिली हैं।’
मेरा किरदार अपनी आधी उम्र से कम की लड़की से प्यार करता है
शक्ति आगे बताते हैं, ‘इस फिल्म में एक लड़की की कहानी भी है, जो अपनी गरीबी की वजह से अपनी शिक्षा पूरी नहीं कर पाती और अब आगे पढ़ना चाहती है। फिल्म द जर्नी ऑफ कर्मा में अलग तरह के प्यार की कहानी के साथ-साथ एक इमोशनल टच भी है। मेरा किरदार अपनी दुनिया में रहता है, शायरी करता है, राइटर है अपनी आधी उम्र से कम की लड़की से प्यार करता है। जब वह अपने मन की बात लड़की को बताता है, तो क्या होता है। यह फिल्म इमोशन और रिलेशन को दर्शाती है।’
शूटिंग के समय खुद को बूढ़ा महसूस करने लगा था
पूनम पांडे के साथ रोमांटिंक सीन शूट करते समय असहज हुए शक्ति कपूर बताते हैं, ‘फिल्म की शूटिंग के दौरान कई बार जब मेरा किरदार उस यंग लड़की के करीब जाता तब ऑक्वर्ड सिचुएशन भी आई। शूटिंग में कुछ सीन फिजिकल टच के भी थे, जिसमें वह दोनों एक-दूसरे को होल्ड करते हैं। अब मैं एक ओल्ड मैन की भूमिका निभा रहा था तो यंग लड़की के साथ शूटिंग में खुद को बूढ़ा महसूस करने लगा था। ऐसे सभी सीन में जब मुझे यंग लड़की के करीब जाकर सीन करना था, तब हर बार ऑक्वर्ड लगता था। हालांकि सारी जिंदगी ऐसा काम किया है, जो पूरी दुनिया जानती है कि मैं पिक्चर में किस तरह के रोल करता रहा हूं।’
पूनम पांडे मुझे कम्फर्टबल नहीं करती तो शायद मैं फिल्म में अच्छे से काम नहीं कर पाता 
शक्ति आगे बताते हैं, ‘अगर पूनम पांडे मुझे कम्फर्टबल नहीं करती तो शायद मैं फिल्म में अच्छे से काम नहीं कर पाता। फिल्म में जो भी अच्छा काम किया है, उसमें पूनम का पूरा सपॉर्ट रहा है। मैं जब ऑक्वर्ड फील करता था वह समझ जाती थी और मुझे पूरा सहयोग कर मेरे सीन को बेहतर बनाती थी।’
आप यह नहीं कह सकते कि इस फिल्म में बहुत ज्यादा सेक्स है
शक्ति कहते हैं, ‘यह एकदम साफ-सुथरी फिल्म है। फिल्म देखते समय आपको बिलकुल भी एहसास नहीं होगा कि फिल्म में कोई भद्दापन है और आपको मेरे किरदार पर रहम भी आएगा। आप यह नहीं कह सकते कि इस फिल्म में बहुत ज्यादा सेक्स है। कहानी इतनी सी है कि एक ओल्ड आदमी जवान लड़की से प्यार कर बैठता है और अब वह इस सिचुएशन में समाज को कैसे फेस करता है।’
मेरी पर्सनल लाइफ में सब-कुछ बहुत अच्छा चल रहा है
अपनी निजी लाइफ और बच्चों के बारे में बात करते हुए शक्ति कहते हैं, ‘मेरी पर्सनल लाइफ में सबकुछ बहुत अच्छा चल रहा है। मेरी बेटी और बेटा दोनों अच्छा काम कर रहे हैं। मैं भी बेहतर काम कर रहा हूं। काम के मामले में सिनेमा का समय बहुत बदल गया है। आप देखिए अमिताभ बच्चन आज 102 साल के ओल्ड मैन कि भूमिका और ऋषि कपूर 75 साल के बूढ़े आदमी की भूमिका निभा रहे हैं, ऐसा सिनेमा में कभी नहीं हुआ है।’
आज हर ऐक्टर चैलंजिंग काम कर रहा है
बिटिया श्रद्धा कपूर के काम के बारे में बात करते हुए शक्ति कहते हैं, ‘आज के समय में हर ऐक्टर चैलंजिंग काम कर रहा है। मेरी बेटी साइना नेहवाल की बायॉपिक कर रही है। साइना आज की टॉप खिलाड़ी हैं। श्रद्धा ने साइना की भूमिका के लिए हैदराबाद जाकर साइना के साथ ट्रेनिंग की है, अब फिर से उसकी ट्रेनिंग शुरू हो जाएगी। अभी वह प्रभास की फिल्म साहो की शूटिंग के लिए दुबई और आबूधाबी का शेड्यूल पूरा करेंगी उसके बाद शाहिद कपूर के साथ बत्ती गुल मीटर चालू की शूटिंग करेंगी और बाद में साइना नेहवाल पर काम शुरू होगा। बत्ती गुल मीटर चालू की शूटिंग लगभग 80 प्रतिशत पूरी हो गई है। बिटिया मेरी अलग-अलग फिल्मों में काम कर रही है। श्रद्धा ने राजकुमार राव के साथ फिल्म स्त्री भी साइन की है।’
मुझे बिटिया श्रद्धा के साथ काम करना है
बेटी श्रद्धा के साथ काम करने के सवाल पर शक्ति कपूर ने कहा ‘मुझे भी बिटिया श्रद्धा के साथ काम करना है। अगर कोई निर्देशक मुझे और बिटिया को साथ में लेकर कोई अच्छी कहानी सुनाता है, तो जरूर काम करेंगे।’
मेरे बच्चे मुझे खुद ऐक्टिंग टिप्स देते हैं
शक्ति आगे कहते हैं, ‘मैं अपने बच्चों को ऐक्टिंग के टिप्स नहीं देता बल्कि मेरे बच्चे मुझे खुद टिप्स देते हैं। श्रद्धा कहती है कि पापा अब आप नेचुरल रहा करो अपने किरदारों में, अपनी दाढ़ी और बालों को हरे-पीले कलर मत किया करो, अपने आपको हर तरह से नेचुरल रखो। इस फिल्म के बारे में श्रद्धा ने कहा था कि पापा यह मुश्किल कहानी है, लेकिन आप अच्छी तरह से कर लेंगे।’
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »