अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंचा Sensex, 36443 का आंकड़ा पार

इस सप्ताह की शुरुआत से ही बाजार तेजी से बढ़ रहा है। गुरुवार को कारोबार शुरू होते ही Sensex अब तक के उच्चतम स्तर पर पहुंच गया। सुबह 10:44 तक ही Sensex 200 अंक उछलकर 36443 के आंकड़े को पार कर गया। इसके पीछे कई वजहें बताई जा रही हैं।
1- पहली तिमाही की अच्छी भविष्यवाणी
पहली तिमाही में जानकारों ने भारतीय अर्थव्यवस्था के सही संकेत बताए। रेटिंग एजेंसी क्रिसिल के मुताबिक भारत की अर्थव्यवस्था अगले तीन साल में सबसे ज्यादा तेजी से वृद्धि करेगी। क्रिसिल के सीनियर डायरेक्टर प्रसाद कोपरकर ने कहा कि 21 मुख्य क्षेत्रों में से 15 में डबल डिजिट ग्रोथ होगी। कंजम्प्शन और कमोडिटी से जुड़े क्षेत्रों में भी बढ़त के पूरे आसार हैं।
2- ‘TCS’ फैक्टर
पहली तिमाही में टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज का एकीकृत शुद्ध लाभ पिछले वर्ष की समान तिमाही के मुकाबले 24 प्रतिशत ज्यादा रहा। आईटी सेक्टर की तरफ निवेशकों की नजरें लगातार बनी रहती हैं। कंपनी के रेवेन्यू के ऐलान के बाद इसके स्टॉक 5 प्रतिशत बढ़ गए। टीसीएस ने चालू वित्त वर्ष की जून में समाप्त पहली तिमाही में 7,340 करोड़ रुपये का एकीकृत शुद्ध लाभ कमाया है।
3-फ्रांस से आगे भारतीय अर्थव्यवस्था
वर्ल्ड बैंक के 2017 के आंकड़ों के मुताबिक भारत दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बन गया। इस मामले में भारत ने फ्रांस को पीछे छोड़ दिया।
इसके मुताबिक भारत की GDP (सकल घरेलू उत्पाद) पिछले साल के आखिर में 2.597 ट्रिलियन डॉलर जबकि फ्रांस की 2.582 ट्रिलियन डॉलर थी। बुधवार को आई इस अच्छी खबर ने मार्केट को और तेजी दे दी।
4- यूएस जॉब्स डेटा
सोमवार को आए जून के यूएस जॉब्स डेटा ने उम्मीदों को बेहतर किया। रॉयटर्स पोल ऑफ इकनॉमिस्ट की 198,000 नौकरियों की भविष्यावाणी से कहीं बढ़कर 213,000 नौकरियां देश में बढ़ीं। इस आंकड़े ने वैश्विक स्तर पर भारत की अर्थव्यवस्था को मजबूत किया।
रुपये की मजबूती
गुरुवार को रुपया भी डॉलर के मुकाबले मजबूत हुआ। रुपये की मजबूती से बाजार में निवेशकों का विश्वास और बढ़ा। इसके साथ ही निवेशकों को औद्योगिक उत्पादन सूचकांक का भी इंतजार है और निवेश में तेजी आ रही है।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »