चयनकर्ताओं को धोनी से उनकी भावी योजनाओं पर चर्चा करनी चाहिए: गंभीर

नई दिल्‍ली। क्रिकेटर से राजनेता बने गौतम गंभीर ने गुरुवार को कहा कि भारतीय चयनकर्ताओं को अनुभवी विकेटकीपर बल्लेबाज महेंद्र सिंह धोनी से उनकी भावी योजनाओं को लेकर चर्चा करनी चाहिए। धोनी आखिरी बार टीम इंडिया की ब्लू जर्सी में आईसीसी वर्ल्ड कप में नजर आए थे।
धोनी को इसके बाद वेस्ट इंडीज के खिलाफ सीरीज और साउथ अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के लिए आराम दिया गया। टीम इंडिया को अपनी कप्तानी में साल 2011 में वर्ल्ड कप दिलाने वाले धोनी को हाल में उनके स्लो रेट के लिए काफी आलोचना झेलनी पड़ी थी।
गंभीर ने यहां संवाददाताओं से कहा, ‘मेरा हमेशा से यही मानना रहा है कि रिटायरमेंट का फैसला निजी होता है। मेरा मानना है कि धोनी से सिलेक्टर्स को उनके भविष्य को लेकर चर्चा करनी चाहिए। जब आप भारत के लिए खेल रहे हैं तो आपको सीरीज चुननी नहीं चाहिए।’
साउथ अफ्रीका के खिलाफ टी20 सीरीज में खराब फॉर्म को लेकर आलोचना झेल रहे विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत का गंभीर ने सपॉर्ट किया। पंत दो टी20 मैचों में केवल 23 रन बना सके। उन्होंने कहा, ‘एक नए बल्लेबाज पर काफी ज्यादा बातें हो रही हैं। वह केवल 21 साल के हैं और करीब ढाई साल पहले ही टीम इंडिया में शामिल हुए हैं।’
गंभीर ने कहा, ‘पंत के नाम टेस्ट क्रिकेट में अभी 2 शतक हैं, उनकी तुलना किसी से नहीं होनी चाहिए। टीम मैनेजमेंट को उन्हें सपोर्ट करना चाहिए। वह अभी युवा हैं और काफी समय है। कैप्टन विराट कोहली, कोच शास्त्री को भी उनसे बात करनी चाहिए। पंत अपने दिन टीम को जीत दिला सकते हैं।’
रोहित शर्मा को लेकर इस पूर्व ओपनर ने कहा, ‘यदि कोई खिलाड़ी वनडे वर्ल्ड कप में 5 शतक जड़ता है तो उसे टेस्ट क्रिकेट में भी मौका देना चाहिए। उनके (रोहित) जैसे खिलाड़ी का बेंच पर बैठना सही नहीं लगता।’ उन्होंने साथ ही कहा कि जसप्रीत बुमराह का चोट के कारण साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट सीरीज में नहीं खेलना टीम इंडिया के लिए बड़ा झटका है।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »