सुरक्षाबलों ने 60 लोगों और स्कूली बच्चों को बचाया, एक आतंकी ढेर

कुलगाम के अशमुजी इलाके में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच मुठभेड़ हुई। जवानों ने फायरिंग कर रहे एक आतंकी को मार गिराया है। प्राथमिक तौर पर उसकी पहचान नहीं हो पाई है। इलाके में अभी भी दो से अधिक आतंकियों के फंसे होने की जानकारी मिल रही है। इस बीच सुरक्षाबलों ने मुठभेड़ स्थल से 60 लोगों और स्कूली बच्चों को निकालकर सुरक्षित जगह पहुंचाया। कुलगाम जिले में यह इस सप्ताह तीसरी मुठभेड़ है। इससे पहले बुधवार को जिले में सुरक्षा बलों ने एक बड़ी सफलता हासिल करते हुए दो अलग-अलग मुठभेड़ों में पांच आतंकियों को मार गिराया था।

शनिवार को अशमुजी इलाके में आतंकवादियों के मौजूद होने की सूचना के बाद सुरक्षाबलों ने संयुक्त ऑपरेशन शुरू किया। जवानों ने इलाके में पहुंचकर आतंकियों की घेराबंदी शुरू कर दी। अपने को फंसता देख आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर अंधाधुंध फायरिंग कर दी। जवाबी कार्रवाई में एक आतंकी मारा गया।

बुधवार को मारे गए पांच आतंकियों में लश्कर के सहयोगी संगठन द रेजिस्टेंट फ्रंट (टीआरएफ) का कमांडर असफाक अहमद भी शामिल था। अन्य आतंकियों में दो टीआरएफ व दो हिजबुल मुजाहिदीन से संबद्ध थे। आतंकियों के पास से हथियार भी मिले हैं। यह नहीं पता चल पाया कि किस प्रकार के हथियार वहां से मिले हैं।
कश्मीर के आईजी विजय कुमार ने बताया कि सुरक्षाबलों को बुधवार को सूचना मिली थी कि कुलगाम जिले के पोम्मबई और गोपालपोरा गांवों में कुछ आतंकी मौजूद हैं। इसके बाद दोनों स्थानों पर सुरक्षाबलों ने इलाके की घेराबंदी कर तलाशी अभियान शुरू किया। इसी दौरान छिपे हुए आतंकियों ने गोलीबारी शुरू कर दी। जवाबी कार्रवाई में पांच आतंकी मारे गए।

इसमें एक आतंकी की शिनाख्त टीआरएफ कमांडर असफाक अहमद के रूप में हुई है। जबकि अन्य की शिनाख्त कुलगाम निवासी शाकिर उर्फ अम्मार, हैदर उर्फ इस्लाम टाइगर तथा शोपियां निवासी इब्राहिम के रूप में हुई है। सोमवार को श्रीनगर के हैदरपोरा में सुरक्षाबलों ने एक पाकिस्तानी आतंकी बिलाल उर्फ हैदर को उसके स्थानीय साथी के साथ मार गिराया था।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *