Serendipity महोत्सव का दूसरा संस्करण शुरू

पणजी। गोवा की राजधानी पणजी serendipity कला महोत्सव के दूसरे संस्करण में विविध कलाओं के प्रदर्शन शुरू हो गया।

इस कला महोत्सव में एक कला प्रेमी की कल्पना को प्रदर्शित करते हुए प्रदूषण, जीएसटी, नोटबंदी जैसे समकालीन मुद्दों को उठाया गया है।

नवतेज सिंह की तस्वीरों में विविध रंगों में भारत के तटीय क्षेत्रों को दिखाया गया है।

यह महोत्सव सुनील मुंजाल की दिमाग की उपज है। इस महोत्सव की विशिष्टता इस बात में है कि यह केवल एक कला रूप पर ही आधारित नहीं है बल्कि यह विभिन्न कला रूपों का संगम है।

इसमें क्राफ्ट, संगीत, थिएटर, पाक कला, दृश्य कला और फोटोग्राफी के सर्वश्रेष्ठ रूपों का जश्न मनाया जा रहा है।

मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर ने कल इस महोत्सव का उद्घाटन किया था। यह महोत्सव राज्य भर में 11 स्थलों पर आयोजित किया जाएगा जिसमें इंडोर और आउटडोर स्थल शामिल है।

महोत्सव का समापन 22 दिसंबर को होगा

गोवा में 16 दिसंबर से 23 दिसम्बर 2016 तक सेरेन्डिपिटी कला महोत्सव का आयोजन होने जा रहा है. यह महोत्सव संगीत, नृत्य,शिल्प, थियेटर और कला पर केंद्रित होगा. यह महोत्सव भारत में कला को विकसित करने के तौर-तरीके में बदलाव लाएगा.

इस महोत्सव का उद्देश्य उभरते कला समुदायों को प्रोत्साहित करना, संरक्षण की संस्कृति को बढ़ावा देना और कला के लिए मूल्य का सृजन करना है. यह महोत्सव देश में अपनी तरह का पहला आयोजन होगा, जिसमें कला की विविधता का समारोह मनाया जाएगा.
इस महोत्सव का उद्देश्य एक मंच पर वैसी कला एवं संस्कृति को एक साथ लाना है और उसे बढ़ावा देना है, जिनकी उपमहाद्वीप के विभिन्न भौगोलिक क्षेत्रों में अनूठी पहचान है. इस महोत्सव में अधिकांश कार्यक्रमों को निशुल्क रखा गया है और इनके लिए केवल पंजीकरण कराने की जरूरत होगी.

गोवा की अतुल्य विविध संस्कृति तथा समृद्ध विरासत से इस कला आयोजन को उपयुक्त पृष्ठभूमि मिलेगी. कार्यक्रमों का आयोजन गोवा के राजधानी पणजी में समुद्र तटों के किनारे होंगे. इस आयोजन में देश-विदेश से कलाकार, प्रस्तोता, पत्रकार,लेखक, शिक्षाविद्, संग्राहक तथा कला समुदाय से संबंधित लोग शामिल होगें.