एनडीआरएफ की तर्ज पर SDRF का गठन प्राथमिकता के आधार पर: योगी

CM-Yogi-Adityanath
एनडीआरएफ की तर्ज पर SDRF का गठन प्राथमिकता के आधार पर: योगी

योगी ने प्रदेश में कार्यरत 18 कोषागारों के अतिरिक्त क्रियाशील 232 उप कोषागारों की उपयोगिता नहीं होने के कारण नियमानुसार समाप्त कर इन उप कोषागारों में तैनात मैनपावर का उपयोग अन्यत्र किये जाने हेतु भी निर्देश दिये हैं।

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने राज्य में आपदा पीड़ितों को तत्काल राहत पहुंचाने के मकसद से केन्द्र के एनडीआरएफ की तर्ज पर एसडीआरएफ का गठन प्राथमिकता के आधार पर करने के निर्देश दिये हैं।

योगी ने कल देर रात वित्त विभाग के प्रस्तुतिकरण के दौरान कहा, ‘‘प्रदेश के लोगों को दैवीय आपदाओं के समय तत्काल राहत उपलब्ध कराने के उद्देश्य से एसडीआरएफ :राज्य आपदा रेस्पांस बल: का गठन नियमानुसार प्राथमिकता से तत्काल सुनिश्चित कराया जाये।’’

उन्होंने कहा कि इन बल का गठन इसलिए आवश्यक है ताकि दैवीय आपदा के समय एनडीआरएफ :राष्ट्रीय आपदा रेस्पांस बल: की भांति एसडीआरएफ के प्रशिक्षित कर्मियों द्वारा दैवीय आपदा पीड़ितों को तत्काल राहत उपलब्ध कराने में आवश्यक मदद मुहैया कराई जा सके।

योगी ने विभिन्न विभागों में अनुपयोगी पदों को समाप्त करते हुये ऐसे तैनात कर्मियों को अन्य विभागों में अन्यत्र समायोजित कराये जाने हेतु सूची तत्काल बनाये जाने के भी निर्देश दिये।

उन्होंने कहा कि परियोजनाओं का बार-बार पुनरीक्षण कतई न किया जाये बल्कि प्रथम बार में स्वीकृत धनराशि से परियोजना के कार्यों को पूर्ण कराया जाये।

योगी ने प्रदेश में कार्यरत 18 कोषागारों के अतिरिक्त क्रियाशील 232 उप कोषागारों की उपयोगिता नहीं होने के कारण नियमानुसार समाप्त कर इन उप कोषागारों में तैनात मैनपावर का उपयोग अन्यत्र किये जाने हेतु भी निर्देश दिये हैं।

उन्होंने कहा कि पेंशनरों की सुविधा हेतु डिजिटल जीवन प्रमाण-पत्र आधार से लिंक कराकर प्रदेश में प्रभावी ढ़ंग से क्रियान्वित कराया जाये। ‘‘प्रदेश में लगभग 12 लाख पेंशनर हैं, प्रत्येक माह की पहली तारीख को पेंशन की धनराशि पेंशनर्स के खाते में ऑनलाइन सुविधा के तहत भेजा जाना प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराया जाये।’’  -एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *