Scientists ने बृहस्पति ग्रह की परिक्रमा कर रहे 12 नये चंद्रमा की खोजे

अमेरिका में कार्नेगी विज्ञान संस्थान के Scientists स्कॉट एस शेफर्ड की अगुवाई में शोधकर्ताओं ने बृहस्पति ग्रह की परिक्रमा कर रहे 12 नये चंद्रमा की खोज की है। इसके साथ ही सौर मंडल के सबसे बड़े ग्रह के प्राकृतिक उपग्रहों की संख्या 79 हो गयी है।

अमेरिका में कार्नेगी विज्ञान संस्थान के स्कॉट एस शेफर्ड की अगुवाई में शोधकर्ताओं ने प्लूटो से आगे विशाल ग्रह की मौजूदगी की तलाश करने के दौरान पिछले साल पहली बार इन चंद्रमाओं को ढूंढा था।

Scientists शेफर्ड ने बताया कि आकाश में बृहस्पति हमारी खोज क्षेत्र के नजदीक स्थित था जबकि हम बहुत दूर स्थित सौर मंडल के पिंड को तलाश रहे थे। इसी बीच हमें बृहस्पति के चारों तरफ नये उपग्रह दिखायी दिये। इंटरनेशनल एस्ट्रोनॉमिकल यूनियन के ग्रेथ विलियम्स ने बताया कि बृहस्पति के चारों तरफ कक्षा में एक पिंड की पुष्टि के लिए कई दफा अवलोकन किया गया। इसलिए पूरी प्रक्रिया में एक साल लग गया।

नये चंद्रमा में से नौ तो एक ही झुंड में मिले जो बृहस्पति के घूमने की विपरीत दिशा में चल रहे थे। वहीं , दो नये चंद्रमा बृहस्पति के घूमने की दिशा में ही चल रहे थे।

इससे पहले जून में वैज्ञानिकों को सौरमंडल से बाहर एक ग्रह पर पानी और धातु के सुराग मिले थे।
वैज्ञानिकों ने सौरमंडल से बाहर स्थित एक ग्रह पर कई धातुओं की मौजूदगी के सुरागों का पता लगाने के साथ ही यहां पानी होने के संभावित संकेतों की पहचान की है।

Scientists ने सौरमंडल से बाहर स्थित एक ग्रह पर कई धातुओं की मौजूदगी के सुरागों का पता लगाने के साथ ही यहां पानी होने के संभावित संकेतों की पहचान की है। यह ग्रह अभी तक खोजा गया सबसे कम घनत्व वाला बाहरी ग्रह है।

ब्रिटेन की यूनिवर्सिटी ऑफ कैंब्रिज और स्पेन के इंस्टीट्यूटो डे एस्ट्रोफिजिका डे केनरियास की टीम ने ग्रेन टेलीस्कोपियो केनरियास का इस्तेमाल कर डब्ल्यूएएसपी-127 बी का अवलोकन किया। बड़े आकार के इस ग्रह का आसमान आंशिक रूप से साफ है और इसके वायुमंडल में धातुओं की मौजूदगी के ठोस संकेत मिले हैं।
-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »