वैज्ञानिकों का दावा, धरती पर काम कर रहे हैं एलियन

एलियन को लेकर हमारे बीच तरह-तरह की बातें की जाती हैं। ऐसा माना जाता है कि सरकारों के पास एलियन को लेकर काफी जानकारी है लेकिन लोगों से छिपाया जाता है।
कुछ वैज्ञानिकों और लेखकों का दावा है कि यह एलियन धरती पर इंसानों के बीच काम कर रहे हैं।
हमारे बीच हैं एलियंस?
स्टैंटन फ्रीडमन एक न्यूक्लियर वैज्ञानिक थे जिनका निधन मई 2019 में हो गया। उन्होंने अमेरिका की चर्चित रोजवेल यूएफओ दुर्घटना की जांच की थी। वह अपनी बात पर कायम थे कि एलियंस हमारे बीच हैं।
उन्होंने कहा था, इस बात के बहुत प्रमाण हैं कि एलियंस ने धरती का भ्रमण किया है और वे लोगों के साथ रह रहे हैं।
एरिया 51
एरिया 51 के बारे में कहा जाता है कि वह अमेरिकी सरकार ने एलियंस को छिपा रखा है। इसकी हकीकत क्या है, इसके बारे में ज्यादा मालूम तो नहीं है लेकिन पहले तो अमेरिकी सरकार एरिया 51 के अस्तित्व को ही नकारती रही है, फिर बाद में इसको स्वीकार किया। कुछ का कहना है कि वहां उड़न तश्तरी का परीक्षण किया गया था।
रूसी राजनीतिज्ञ से एलियन ने की भेंट?
रूस के राजनीतिज्ञ किरसान इल्युझिनोव ने एक चौंकाने वाला खुलासा किया था।
उन्होंने कहा कि 18 सितंबर 1997 को एलियन उनके अपार्टमेंट में उनसे मिलने आए थे। इसके बाद एलियन ने उनका अपहरण कर लिया था। यह कहानी दो वजहों से विश्वसनीय मानी जाती है। एक तो इल्युझिनोव के ड्राइवर, मंत्री और सहायक ने इस बात की पुष्टि की थी कि वह रहस्यमय तरीके से गायब हो गए थे। दूसरा कारण यह है कि रूस की सरकार भी ऐसा मानती है। वास्तव में रूसी सरकार को तो यह चिंता है कि उन्होंने अगर एलियंस के साथ गोपनीय सूचना साझा कर दी होगी तो रूस को खतरा हो सकता है।
रूस में भी हैं एलियन
रूस के पूर्व प्रधानमंत्री दमित्री मेदवदेव कई बार एलियन की मौजूदगी के बारे में कह चुके हैं। एक बार एक रिपोर्ट से बात करते हुए उनके मुंह से निकल पड़ा था कि एलियन इंसानों के बीच रहता है और उनके साथ मिलकर काम करता है।
परमाणु बम से चिंतित हैं एलियन
कनाडा के पूर्व रक्षा मंत्री पाउल हेलर ने दावा किया था कि एलियन धरती पर आते रहते हैं।
उनके मुताबिक इधर कुछ सालों से उनकी गतिविधि बढ़ गई है। दरअसल, वे धरती पर परमाणु हथियारों की होड़ से काफी चिंतित हैं।
एलियन की मुट्ठी में है अमेरिका?
एडवर्ड स्नोडन ने अमेरिका के बारे में काफी सनसनीखेज दावे किए। कहा जाता है कि एडवर्ड स्नोडन जब सीआईए में कर्मचारी था तो गोपनीय सूचनाओं की चोरी की थी। बाद में उसनो गोपनीय सूचनाओं को लीक करने का दावा किया था। स्नोडन द्वारा लीक की गई सूचनाओं से यह संकेत मिलता है कि अमेरिका को ‘टॉल वाइट’ नाम के एलियनों से निर्देश मिलता है।
लीक के मुताबिक, यह एलियन की वही प्रजाति है जिसके बारे में दावा है कि नाजियों को पहले विश्वयुद्ध से पहले सत्ता दिलाई थी। ऐसा दावा है कि पहले विश्व युद्ध के बाद फिर उन एलियन ने अमेरिका को काबू करना शुरू कर दिया।
टोनटो नेशनल फॉरेस्ट
अमेरिका के कृषि विभाग ने कुछ ऐसी जानकारी और डेटा शेयर किया है जिससे ऐसा लगता है कि एरिजोना के टोनटो नेशनल फॉरेस्ट में शायद एलियन मौजूद हैं। एक व्यक्ति ने कॉल करके बताया था कि उसने एक गुप्त बेस का निर्माण होते देखा है जहां एलियन से संबंधित गतिविधि होती है। उस व्यक्ति ने दावा किया था कि उसने उड़नतश्तरी और जहाजों को देखा है। उसने संभावना जताई थी कि वहां इंसान और एलियन मिलकर काम कर रहे होंगे।
​विकीलीक्स और वो ईमेल
विकीलीक्स याद है न। एक समय था जब विकीलीक्स पर सूचनाओं के लीक को लेकर दुनिया में हंगामा मच गया था। जिन सूचनाओं को विकीलीक्स पर लीक किया गया था, उनमें एक ईमेल भी था। ईमेल अमेरिका के पूर्व अंतरिक्ष यात्री एडगार मिचेल ने अमेरिकी राजनीतिज्ञ जॉन पोडेस्टा को भेजा था। ईमेल में उसने लिखा था कि पोप को धरती पर एलियन की मौजूदगी का पता है। मिचेल ने आगे लिखा कि एलियन इंसानों की मदद करना चाहते हैं। वे चाहते हैं कि इंसान की जिंदगी में बेहतरी लाने के लिए काम किया जाए।
-एजेंसियां

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *