SBI ने बेची जनरल इंश्योरेंस की 4 फीसदी हिस्सेदारी

मुंबई। SBI ने इसे इंश्योरेंस ऑस्ट्रेलिया ग्रुप (आईएजी) के साथ मिलकर शुरू किया था। 4 फीसदी की हिस्सेदारी बेचने के बाद अब SBI की हिस्सेदारी घटकर 70 फीसदी रह गई है।

भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) विनिमायक मंजूरी के बाद SBI जनरल इंश्योरेंस कंपनी की चार फीसदी हिस्सेदारी 481.73 करोड़ रुपये में बेचेगा। यह हिस्सेदारी बिक्री SBI जनरल की तरफ से मार्च 2019 में आरंभिक सार्वजनिक निर्गम पेश करने से पहले मूल्यांकन की कवायद का हिस्सा है। एसबीआई ने अपने इस हिस्से का सौदा एक्सिस एएमसी लिमिटेड और प्रेमजी अपॉर्च्यूनिटीज फंड के साथ किया है।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) की फाइलिंग के अनुसार, बैंक की केंद्रीय कार्यकारिणी समिति (ईसीसीबी) ने एक्सिस न्यू अपॉर्च्यूनिटीज एआईएफ-एल (एक्सिस एएमसी लिमिटेड) और पी-एल अपॉर्च्यूनिटीज फंड-1(प्रेमजी) को 86,20,000 शेयर विनिवेश को मंजूरी प्रदान की। फाइलिंग के अनुसार, अंतरण विनियामक मंजूरी के अधीन है।

SBI ने इसे इंश्योरेंस ऑस्ट्रेलिया ग्रुप (आईएजी) के साथ मिलकर शुरू किया था। 4 फीसदी की हिस्सेदारी बेचने के बाद अब एसबीआई की हिस्सेदारी घटकर 70 फीसदी रह गई है और आईएजी की हिस्सेदारी 26 फीसदी है।

इस फैसले के बाद एसबीआई के प्रमुख रजनीश कुमार ने कहा कि उनकी सभी सहायक कंपनियों ने शानदार प्रदर्शन किया है। उन्होंने कहा कि बीमा क्षेत्र की अभी भी भारत में शुरूआत ही है और बाजार में इसका काफी कम प्रसार हुआ है। एसबीआई जनरल इंश्योरेंस के प्रबंध निदेशक पी. महापात्र ने कहा कि एसबीआई बीमा के क्षेत्र में पिछले 7 वर्षों से काम कर रहा है और इस साल जून में निजी क्षेत्र की सामान्य बीमा कंपनियों में उनकी कंपनी 7वीं बड़ी कंपनी बन गई है।

-एजेंसी

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Translate »