SBI ने सस्‍ता किया लोन, संशोधित दर 1 जनवरी 2020 से लागू

नई दिल्‍ली। देश के सबसे बड़े सरकारी बैंक भारतीय स्टेट बैंक (SBI) ने अपना लोन सस्ता कर दिया है। बैंक ने सोमवार को एक्सटर्नल बेंचमार्क रेट (EBR) में 25 आधार अंकों (0.25%) की कटौती करने की घोषणा की है, जिसके साथ ही यह 8.05% से घटकर 7.80% पर आ गया है। SBI पहला बैंक है, जिसने दिसंबर में RBI द्वारा मौद्रिक नीति समीक्षा के बाद एक्सटर्नल बेंचमार्क रेट में कटौती की है।
SBI ने प्रेस विज्ञप्ति मे कहा कि ईबीआर की संशोधित दर 1 जनवरी, 2020 से लागू होगी। नए होम बायर्स के लिए होम लोन की दरों की शुरुआत 7.9% से होगी, जो पहले 8.15% थी। इस साल अब तक एसबीआई ने एमसीएलआर में 0.65% की कटौती की है।
नए इंट्रेस्ट रेट से होने वाला फायदा
लोन की रकम        अवधि         नई ब्याज दर     पुरानी ब्याज दर     नई EMI     पुरानी EMI     कुल भुगतान    अब कुल भुगतान     फायदा
50 लाख               20 साल     7.9% 8.15%     41,511 42,290   99,62,727   1,01,49,594    1,86,867       75 लाख 20 साल   7.9% 8.15%   62,267 63,   435 1,49,    44,091 1,   52,24,390    2,80,299
सभी आंकड़े रुपये में
क्या होता है एक्सटर्नल बेंचमार्क रेट
भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) ने HOME LOAN पर इंट्रेस्ट रेट तय करने के लिए बैंकों को अप्रैल 2019 से एक्सटर्नल बेंचमार्क (ट्रेजरी बिल रेट्स या रीपो रेट्स) का इस्तेमाल करने का निर्देश दिया है। इससे पहले बैंक होम लोन पर इंट्रेस्ट रेट तय करने के लिए एक इंटरनल बेंचमार्क (मार्जिनल कॉस्ट ऑफ रेजिंग फंड्स) का इस्तेमाल करते थे।
कौन-कौन से एक्सटर्नल बेंचमार्क उपलब्ध हैं?
बैंक पॉलिसी रीपो रेट, 91-डे ट्रेजरी बिल यील्ड या 182-डे ट्रेजरी बिल यील्ड या फाइनैंशल बैंचमार्क्स इंडिया (एफबीआईएल) द्वारा दिए गए किसी भी बेंचमार्क का इस्तेमाल कर सकता है।
-एजेंसियां

50% LikesVS
50% Dislikes

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *